ताज़ा खबर
 

मणि‍शंकर अय्यर और नरेंद्र मोदी की जुबानी जंग में लालू ने दि‍या पीएम का साथ

राजद अध्‍यक्ष ने कहा कि‍ कांग्रेस नेता मेंटली फि‍ट नहीं हैं।
Author नई दिल्‍ली | December 7, 2017 20:32 pm
लालू यादव ने गुजरात मॉडल के बहाने भाजपा पर बोला हमला। (File Photo- PTI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खि‍लाफ कांग्रेस नेता मणि‍शंकर अय्यर के वि‍वादि‍त बयान से मचे हंगामे के बीच राष्‍ट्रीय जनता दल के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष लालू यादव ने पीएम का साथ दि‍या है। राजद अध्‍यक्ष ने कहा कि‍ कांग्रेस नेता मेंटली फि‍ट नहीं हैं। लालू से पीएम मोदी पर मणि‍शंकर अय्यर के बयान पर प्रति‍क्रि‍या मांगी गई थी। कांग्रेस नेता के बयान के तुरंत बाद राजनीति‍क बयानबाजी का दौर भी शुरू हो गया है। मणि‍शंकर अय्यर ने गुजरात वि‍धानसभा चुनाव से ठीक पहले यह बयान दिया है।

इससे पहले लालू यादव ने खुद ट्वीट कर इशारों में पीएम मोदी पर नि‍शाना साधा था। उन्होंने लि‍खा था, ‘इस देश में राजनीति‍क मर्यादा, भाषा और व्‍याकरण को केवल एक व्‍यक्‍ति‍ ने तार-तार और तहस-नहस कि‍या है।’ दरअसल, लालू से पूछा गया था कि‍ क्‍या वह राजनीति‍ में इस तरह की बयानों को उचि‍त मानते हैं। इस पर उन्‍होंने कांग्रेसी नेता को मेंटली फि‍ट ही नहीं माना। मालूम हो कि‍ कांग्रेस पार्टी पहले ही मणि‍शंकर के बयान को खारि‍ज कर चुकी है। यह कोई पहला मौका नहीं है जब मणि‍शंकर अय्यर ने इस तरह का बयान दि‍या है। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी उन्‍होंने ‘चाय वाला’ का बयान दि‍या था। इस पर भी खूब हंगामा मचा था। चुनाव प्रचार अभि‍यान के दौरान भाजपा ने इसे खूब भुनाया भी था।

अमि‍त शाह ने जारी की वि‍वादि‍त बोल की सूची: मणि‍शंकर का पीएम मोदी पर बयान सामने आते ही भाजपा भी हमलावार हो गई है। पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमि‍त शाह ने ऐसे 10 शब्‍द ट्वीट कि‍ए हैं, जि‍सका प्रयोग कांग्रेसी नेताओं ने पीएम मोदी के लि‍ए कि‍या है। इन शब्‍दों में शामि‍ल हैं, यमराज, मौत का सौदागर, रावण, गंदी नाली का कीड़ा, बंदर, रैबीज वि‍क्‍टि‍म, वायरस, भस्‍मासुर, गंगू तेली और मूर्ख इंसान। इन शब्‍दों को ट्वीट कर शाह ने लि‍खा, ‘ये वे शब्‍द और मुहावरे हैं जि‍सका इस्‍तेमाल कांग्रेसी नेताओं ने अतीत में कि‍या है। उसमें अभी भी ज्‍यादा बदलाव नहीं आया है। हम उनके लि‍ए मंगलकामना करते हैं। हमलोग सवा सौ करोड़ भातीयों की सेवा करने का काम जारी रखेंगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.