लखीमपुर खीरी कांडः सामने आया नया वीडियो, ‘रौंदने वाली’ एक एसयूवी में पूर्व कांग्रेस सांसद का भतीजा भी, भाजपा MP से संबंध

एक नया वीडियो सामने आया है जिसमें घायल शख्स दावा कर रहा है कि एक एसयूवी में पूर्व कांग्रेस सांसद का भतीजा अंकित दास भी मौजूद था। जानकारी के मुताबिक अंकित भाजपा सांसद अजय मिश्रा का करीबी है।

लखीमपुर में विरोध प्रदर्शन के दौरान किसान। फोटो- एक्सप्रेस By विशाल श्रीवास्तव

यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के बाद एक-एक कर कई वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आ रहे हैं। वीडियो के जरिए एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। अब एक नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में देखा गया है कि कथित तौर पर किसानों को रौंदने वाली तीन SUV में से एक में पूर्व कांग्रेस सांसद का भतीजा भी बैठा है।

बताते चलें कि लखीमपुर खीरी की इस घटना में चार किसानों की मौत हो गई थी। वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिस एक घायल शख्स से सवाल पूछ रही है। शख्स दावा करता है कि वह उसी एसयूवी में था जिसमें पूर्व कांग्रेस सांसद अखिलेश दास के भतीजे अंकित दास बैठे थे। बताया जाता है कि अंकित दास केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के करीबी हैं।

पुलिस को बयान दे रहे युवक ने कहा कि वह चार लोगों के साथ दूसरी एसयूवी में था और इसी में अंकित दास भी मौजूद थे। उसने पुलिस को गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर भी दिया औऱ दावा किया कि वह गाड़ी अंकित दास की ही है। महिंद्रा थार के बारे में सवाल किए जाने पर उसने कहा, ‘वो आगे सबके ऊपर चढ़ाते जा रहे थे और हम पीछे थे।’

घायल शख्स कहता है कि वह भैया (अंकित दास) के साथ था। ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ ने अंकित दास से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। एडीजी लॉ ऐंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि वीडियो की जांच की जाएगी और इसके बाद आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी।

लखीमपुर में कथित तौर पर गाड़ी के नीचे रौंदे जाने के बाद चार किसानों की मौत हुई थी। इसके बाद भड़की हिंसा में चार औऱ लोगों की मौत हो गई थी। घटना के बाद केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई गई है।

वायरल हो रहा एक और वीडियो
लखीमपुर कांड का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि इस वीडियो में स्पष्ट देखा जा सकता है कि अजय मिश्रा के बेटे की महिंद्रा थार के नीचे आकर किसानों की मौत हो गई। हालांकि जनसत्ता ऐसे किसी वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। वहां मौजूद एक शख्स के मुताबिक जब वाहन किसानों कौ रौंदने लगे तो जवाबी हमले में वाहनों में आग लगा दी गई और काफिले के चार लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट