ताज़ा खबर
 

कुंभ: रेलवे रखेगा प्रवासी भारतीयों का खास ख्याल, दिल्ली-इलाहाबाद के बीच चलेंगी स्पेशल ट्रेनें

विदेश मंत्रालय की वेबसाइट से प्राप्त जानकारी के अनुसार 5000 हजार प्रवासियों प्रतिनिधियों के लिए रेलवे से ट्रेन की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। अभी यह पता नहीं चल पाया है कि रेलवे उनके लिए कितनी ट्रेनें चलाएगा। रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे से कहा गया है कि वह व्यवस्था का खाका तैयार करे।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

कुंभ मेला नजदीक है इसलिए भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए जोर शोर से तैयारियां शुरू कर दी हैं। कुंभ मेले के दौरान भारतीय रेलवे विशेष ‘प्रवासी भारतीय’ ट्रेन चलाएगा। ये ट्रेनें राजधानी दिल्ली से इलाहाबाद के बीच चलेंगी। दरअसल प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 21 से 23 जनवरी के बीच 15वां प्रवासी भारतीय दिवस समारोह चलेगा। 24 जनवरी को प्रवासी प्रतिनिधियों के लिए कुंभ में स्नान की व्यवस्था रखी गई है। इसके बाद 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस में उन्हें शामिल भी होना है, इसलिए सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है रेलवे ने उनके लिए खास प्रवासी भारतीय ट्रेन चलाएगा। विदेश मंत्रालय की वेबसाइट से प्राप्त जानकारी के अनुसार 5000 हजार प्रवासियों प्रतिनिधियों के लिए रेलवे से ट्रेन की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। अभी यह पता नहीं चल पाया है कि रेलवे उनके लिए कितनी ट्रेनें चलाएगा। रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे से कहा गया है कि वह व्यवस्था का खाका तैयार करे। कहा जा रहा है कि प्रवासी प्रतिनिधियों की सुविधा का ख्याल रखते हुए ट्रेनों के थर्ड एसी कोच को सेकेंड एसी ट्रेन में कन्वर्ट किया जाएगा।

प्रवासी प्रतिनिधियों को प्रयागराज में जगह दी जाएगी और उन्हें आईआरसीटीसी के द्वारा कॉम्पलीमेंटरी ब्रेकफास्ट और डिनर दिया जाएगा। प्रवासी भारतीयों के कुंभ मेले में शामिल होने को लेकर तैयारियों जोरों पर हैं लेकिन जो लोग पवित्र डुबकी लगाना चाहते हैं उन्हें प्रवासी भारतीय दिवस की वेबसाइट पर 15 नवंबर तक रजिस्टर करने को कहा गया है। विदेश मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार इलाहाबाद में कुंभ मेला 14 जनवरी 2019 से लेकर 4 मार्च 2019 तक चलेगा। इस दौरान राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर से देश भर से लाखों श्रद्धालुओं के कुंभ में पहुंचने की उम्मीद है।

सरकार ने भारतीय रेलवे को उसके विशाल संसाधनों को सक्रिय करने के लिए निर्देश दिया है। कुंभ के दौरान भारी संख्या में श्रद्धालु इलाहाबाद जाते हैं, इस पर विचार करते हुए रेलवे दिल्ली से इलाहाबाद के बीच ट्रेनों का अवागमन बढ़ा सकता है और कई जगहों से कुंभ मेला स्पेशल ट्रेनें चला सकता है। बता दें कि कुंभ मेले की तैयारियों के लिए केंद्र और राज्य सरकार ने 2500 करोड़ रुपये का भारी बजट रखा है। पर्यटन मंत्रालय यूरोपीय देशों में कुंभ को लेकर रोडशो आदि कार्यक्रम करा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X