कोलकाता में फ्लाई-ओवर गिरने से अब तक 25 की मौत, कंपनी ने बताया 'Act of God' - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कोलकाता में फ्लाई-ओवर गिरने से अब तक 25 की मौत, कंपनी ने बताया ‘Act of God’

अपना चुनावी दौरा बीच में ही खत्म कर घटनास्थल का दौरा करने वाली मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यह राजनीति करने का समय नहीं है और हमें राहत एवं बचाव कार्य पर ध्यान देना चाहिए।

पुलिस ने कहा कि बड़ा बाजार इलाके में हुए इस हादसे में 21 लोग मारे गए, जबकि कम से कम 88 लोग जख्मी हुए हैं।

उत्तरी कोलकाता में गुरुवार को गिरे फ्लाई-ओवर का निर्माण करने वाली कंपनी आईवीआरसीएल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस हादसे पर बेतुका बयान दिया है। अधिकारी ने कहा है कि यह और कुछ नहीं बल्कि भगवान की मर्जी है। इस बीच, कंपनी के एक अधिकारी ने इस बात से इनकार किया कि हादसे के पीछे की वजह गुणवत्ता से जुड़ा या कोई तकनीकी मुद्दा था। हैदराबाद स्थित कंपनी के समूह प्रमुख (मानव संसाधन और प्रशासन) के पांडुरंग राव ने पत्रकारों को बताया कि यह और कुछ नहीं बल्कि भगवान की मर्जी है। अब तक 27 सालों में हमने कई पुल बनाए हैं, लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ। राव ने बताया कि घटनास्थल से आईवीआरसीएल के भी दो इंजीनियर लापता हैं। उन्होंने कहा कि उनकी तलाश की जा रही है। पुलिस ने आईवीआरसीएल के स्थानीय दफ्तर को सील कर दिया है और कंपनी के खिलाफ आईपीसी की धारा 304, 308 और 407 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

 Read Also: कोलकाता हादसा: दागदार है पुल बनाने वाली कंपनी का इतिहास, रेलवे ने कई बार रद्द किया कॉन्‍ट्रैक्‍ट

फ्लाई-ओवर गिरने की वजह पूछे जाने पर निदेशक (संचालन) ए जी के मूर्ति ने बताया कि फिलहाल इसमें गुणवत्ता से जुड़ा या कोई तकनीकी कारण नहीं लग रहा। मूर्ति ने कहा कि फ्लाई-ओवर के निर्माण का 70 फीसदी काम पूरा हो चुका था और जब गिरा तो 60वें स्लैब पर काम चल रहा था। दोनों अधिकारियों ने बताया कि कंपनी सरकारी एजेंसियों से सहयोग करेगी। मूर्ति ने बताया कि जो भी सर्वश्रेष्ठ संभव होगा हम करेंगे। सभी परियोजनाओं का बीमा किया हुआ है। अधिकारियों ने कहा कि हम स्तब्ध हैं। हमारा प्रबंधन भी स्तब्ध है। हम मामले की जांच कर रहे हैं।

अब तक 25 की मौत : फ्लाई-ओवर का एक हिस्सा गिर जाने से अब तक 25 लोगों की मौत हो गई, जबकि 150 अन्य लोग जख्मी हो गए हैं। वहीं, कुछ के मलबे में फंसे होने की आशंका है। राज्य सरकार ने हादसे की उच्च-स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं। पुलिस ने कहा कि मृतकों में 15 की पहचान हो गई है, जबकि शेष के लिए पहचान प्रक्रिया चल रही है। घायलों को नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

ममता ने किया घटनास्‍थल का दौरा: अपना चुनावी दौरा बीच में ही खत्म कर घटनास्थल का दौरा करने वाली मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यह राजनीति करने का समय नहीं है और हमें राहत एवं बचाव कार्य पर ध्यान देना चाहिए। घटनास्थल का दौरा करने वाले पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने इस मामले में राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की है। मुख्य सचिव वासुदेव बनर्जी ने कहा कि हादसे की उच्च-स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App