ताज़ा खबर
 

बहुत खास है मुकेश अंबानी के घर ऐंटीलिया के घर का गेट, खुद ही पहचान लेता है, बम भी नहीं उड़ा सकता

इस गेट में यह खासियत है कि जैसे ही कंप्यूटर में अंकित नंबर वाली कोई भी गाड़ी घर के सामने आती है तो अपने आप यह दरवाजा खुल जाता है।

mumbai police, mumbaiमुंबई में मुकेश अंबानी के घर के बाहर तैनात पुलिसकर्मी। (PTI)

पिछले दिनों मुकेश अंबानी के घर के पास से विस्फोटक भरी एक गाड़ी को बरामद किया गया था।  विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-उल-हिंद ने ली थी। भले ही आतंकियों ने मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोट करने की योजना बनाई थी। लेकिन सुरक्षा के चाक चौबंद इंतेजाम के सामने आतंकियों के ये मंसूबे सफल नहीं हो सके। मुकेश अंबानी के घर ऐंटीलिया का गेट इतना आधुनिक तकनीक से लैस है कि वह बम से भी नहीं उड़ सकता है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मुकेश अंबानी के घर का गेट बेहद ही खास है और यह पूरी तरह से सभी आधुनिक तकनीकों से लैस है। इस गेट को कम्प्युटराइज भी किया गया है और इसमें मुकेश अंबानी के घर के सभी गाड़ियों का नंबर और डाटा दर्ज करवाया गया है। इस गेट में यह खासियत है कि जैसे ही कंप्यूटर में अंकित नंबर वाली कोई भी गाड़ी घर के सामने आती है तो अपने आप यह दरवाजा खुल जाता है। लेकिन बाहर की गाड़ी आने यह बीप साउंड कर तुरंत ही गेट पर मौजूद गार्ड को सूचित कर देता है।

मुकेश अंबानी के घर ऐंटीलिया के गेट में लगा सेंसर इतना पावरफुल है कि यह दूर से गाड़ी की स्कैनिंग कर लेता है। इस गेट में तकनीक का भरपूर इस्तेमाल किया गया है जिसकी वजह से गेट को बम से भी नहीं उड़ाया जा सकता है। ज्ञात हो कि पिछले दिनों मुकेश अंबानी के घर के बाहर से एक कार बरामद की गयी थी. जिसके अंदर से 20 जिलेटिन की छड़ें मिली थी।

हालाँकि बाद में यह बताया गया था कि कार से मिलीं जिलेटिन की छड़ें नागपुर की सोलर इंडस्ट्रीज नाम की कंपनी ने बनाई है। जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने कंपनी के चेयरमैन सत्यनारायण नुवाल का बयान भी दर्ज किया था। आतंकी संगठन जैश-उल-हिंद ने इस मामले में जिम्मेदारी ली थी। आतंकी संगठन ने जांच एजेंसी को चैलेंज करते हुए लिखा था कि यह सिर्फ ट्रेलर है और पिक्चर अभी बाकी है। रोक सको तो रोक लो। तुम कुछ नहीं कर पाए थे, जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में हिट किया था।

Next Stories
1 बंगाल चुनावः कांग्रेस प्रवक्ता बोले- भाजपा और टीएमसी दोनों शांति भंग कर रहे, सुधांशु त्रिवेदी ने दिया जवाब
2 कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन की संभावना, लखनऊ में 5 अप्रैल तक लगा दी गई धारा 144
3 बंद हो गया माइक, राहुल गांधी बोले- मेरे साथ संसद में रोज यही होता है, मुंह खोलते ही…
ये पढ़ा क्या?
X