ताज़ा खबर
 

बैलगाड़ी पर बैठकर गांव जा रहीं थीं LG किरण बेदी, रास्ते में गिर गया आईफोन, सुरक्षाकर्मियों ने यूं ढूंढा

यह फोन तब गिर गया था जब बेदी एक बैलगाड़ी में सवार हुई थीं। राज निवास के एक अधिकारी ने बताया कि बेदी ने एक दूसरे मोबाइल फोन से अपना नंबर मिलाया।

Author पुडुचेरी | Published on: September 14, 2019 10:14 PM
पुडुचेरी की उप राज्यपाल किरण बेदी का महंगा आईफोन शनिवार को गायब हो गया।(फाइल फोटो)

पुडुचेरी की उप राज्यपाल किरण बेदी का महंगा आईफोन शनिवार को उस वक्त गायब हो गया जब वह यहां ‘हरित पुडुचेरी और जल समृद्ध पुडुचेरी अभियान में हिस्सा लेने एक झील के किनारे पहुंची थीं। जल निकाय के संरक्षण के लिये बड़ी संख्या में स्वयंसेवकों और अधिकारियों के साथ यहां पहुंचीं पूर्व आईपीएस अधिकारी का फोन काफी तलाशी के बाद एक झाड़ी में मिला लेकिन यह आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गया था। यह फोन तब गिर गया था जब बेदी एक बैलगाड़ी में सवार हुई थीं। राज निवास के एक अधिकारी ने बताया कि बेदी ने एक दूसरे मोबाइल फोन से अपना नंबर मिलाया और फिर रिंगटोन की आवाज से झाड़ियों में गिरे अपने आईफोन तक पहुंचीं।

इससे पहले, एक व्हाट्सएप संदेश में बेदी ने कहा कि ओसूरु झील के बाद बहूर झील दूसरी सबसे बड़ी झील थी।पिछले कुछ महीनों में निरंतर प्रयासों  से बहूर झील के किनारों को वॉकर्स ट्रेल बनाया गया था जहाँ जल निकाय के दोनों ओर 3,000 से अधिक पौधे लगाए गए थे। साथ ही, बेदी ने कहा कि उन्होंने 19 वीं सदी में दो महिलाओं बंगारी और सिंगारी की पत्थर का चित्र जमीन में धंसा मिले था। जिसे  उनके निर्देश के बाद खुदाई कर निकाला गया था। इन दोनों ने झील के संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उपराज्यपाल किरण बेदी ने उन छवियों का पूजन किया और उनके साथ गाँव की यात्रा के दौरान उनके साथ प्रार्थना की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 जम्मू-कश्मीर: पाक गोलाबारी में फंस गए थे 50 स्कूली बच्चे, मुंहतोड़ जवाब देकर बच्चों को गोद में लेकर दौड़े जवान, देखें VIDEO
2 हिन्दी विरोध में मर्यादा भूले पैनलिस्ट, बीजेपी प्रवक्ता से बोले- बच्चे पैदा कम करो, इनकम बढ़ा लो, एंकर ने की तारीफ
3 नीति आयोग और वित्त मंत्रालय की सलाह दरकिनार कर बनाए गए 106 राष्ट्रीय जलमार्ग, RTI में खुलासा