ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल की चुनौती पर किरण बेदी ने कहा: ‘सदन में होगी बहस’

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की मुख्यमंत्री पद की दावेदार किरण बेदी ने आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल के दिल्ली से जुड़े महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर बहस करने की चुनौती से पल्ला झाड़ लिया है। उन्होंने कहा है कि वो विधानसभा में बहस करेंगी। वहीं कांग्रेस के अजय माकन ने विधानसभा चुनाव में एक स्वस्थ्य चर्चा करने […]
Author January 21, 2015 09:18 am
भाजपा की मुख्यमंत्री पद की दावेदार किरण बेदी ने आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल के दिल्ली से जुड़े महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर बहस करने की चुनौती से पल्ला झाड़ लिया है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की मुख्यमंत्री पद की दावेदार किरण बेदी ने आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल के दिल्ली से जुड़े महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर बहस करने की चुनौती से पल्ला झाड़ लिया है। उन्होंने कहा है कि वो विधानसभा में बहस करेंगी। वहीं कांग्रेस के अजय माकन ने विधानसभा चुनाव में एक स्वस्थ्य चर्चा करने पर सहमति जताई है।

आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को किरण बेदी को सार्वजनिक बहस की चुनौती देते हुए कहा कि ऐसी चर्चा अच्छी पहल होगी क्योंकि इससे लोगों को दिल्ली के मुद्दों के बारे में दोनों मुख्य दलों की योजनाओं और नीतियों के बारे में जानकारी मिलेगी। इससे विभिन्न मुद्दों को समझने में मदद मिलेगी।

भाजपा ने किरण बेदी को दिल्ली विधानसभा के चुनाव में मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित किया है। वह पिछले हफ्ते ही भाजपा में शामिल हुई हैं। किरण बेदी ने कहा कि वो चुनौती स्वीकार करती हैं लेकिन सदन के भीतर बहस करेंगी चुनाव प्रचार के दौरान नहीं। उन्होंने कहा,‘मैं चुनौती स्वीकार करती हूं। मैं विधानसभा में ऐसा करुंगी। इससे पहले मैं बहस की बजाए काम पर ध्यान दूंगी क्योंकि मैं ऐसा ही करती रही हूं। उन्होंने कहा कि वे (अरविंद) केवल बहस में यकीन करते हैं जबकि मैं काम करने में यकीन करती हूं। मैं उनके साथ सदन के भीतर बहस करुंगी। मैं लक्ष्य, सेवा और कार्यक्रम पर ध्यान दे रही हूं।’

किरण बेदी ने कहा,‘वे (अरविंद) नाटक में लगे हुए हैं, जबकि मैं काम पर ध्यान दे रही हूं। वे ऐसा मिलकर करते रहे मैं मैं काम करने पर जोर दे रही हूं।’

इससे पहले आप नेता ने कहा कि लोकतंत्र के लिए यह अच्छी पहल होगी यदि हमारे बीच विभिन्न मुद्दों पर बहस हो। लोग धर्म और जाति के नाम पर वोट देते हैं। वे मुद्दों के बारे में जागरूकता नहीं हैं। करीब एक दो घंटे की बहस ठोस मुद्दों पर होनी चाहिए। 65 साल की बेदी को पार्टी संसदीय बोर्ड के साथ बैठक करने के बाद मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया गया है।

अरविंद केजरीवाल की ओर से किरण बेदी को सार्वजनिक चर्चा के लिए चुनौती देने पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के अजय माकन ने कहा कि यह स्वस्थ परंपरा होगी। मैं समझता हूं कि आपसी सहमति के आधार पर स्वीकार्य टीवी चैनल या एजंसी और स्वीकार्य एंकर के संयोजन में व्यवस्थित चर्चा होनी चाहिए। कांग्रेस पार्टी के चुनाव अभियान समिति के प्रमुख माकन ने कहा कि चर्चा से विभिन्न राजनीतिक दलों के नेतृत्व को जनता के कठिन सवालों के जवाब देने का मौका मिलेगा।

उन्होंने कहा,‘मैं समझता हूं कि नेतृत्व के लिए कठिन सवालों का जवाब देने और इंटरनेट और सोशल मीडिया के समय में जनता के समक्ष अपनी बात रखने का यह सर्वश्रेष्ठ रास्ता होगा।’ केजरीवाल और किरण बेदी की ओर इशारा करते हुए माकन ने कहा,‘मैं व्यवस्थित चर्चा के लिए तैयार हूं। दिल्ली की जनता को तुलनात्मक मूल्यांकन करने दें। वहीं, आप ने कहा कि बेदी के बहस में हिस्सा लेने से मना करने से स्पष्ट होता है कि भाजपा चर्चा की संस्कृति से भयभीत है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.