ताज़ा खबर
 

किरण बेदी के भाजपा के सत्ता में आने पर बेहतर प्रशासन, नीतियों का किया वादा

भाजपा की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी ने आज कहा कि दिल्ली में आगामी विधानसभा चुनाव में अगर उनकी पार्टी सत्ता में आई तब उनकी प्राथमिकता प्रत्येक सरकारी विभागों के लिए एक ‘श्वेत पत्र’ जारी करने के साथ सुरक्षा सूचकांक शुरू करना होगी ताकि बेहतर नीतियां सुनिश्चित की जा सकें। किरण बेदी ने कहा, […]

Author January 21, 2015 1:36 PM
देश की पहली महिला आइपीएस अधिकारी किरण बेदी के भाजपा में शामिल होने से पार्टी में खुशी और उल्लास का माहौल है।

भाजपा की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी ने आज कहा कि दिल्ली में आगामी विधानसभा चुनाव में अगर उनकी पार्टी सत्ता में आई तब उनकी प्राथमिकता प्रत्येक सरकारी विभागों के लिए एक ‘श्वेत पत्र’ जारी करने के साथ सुरक्षा सूचकांक शुरू करना होगी ताकि बेहतर नीतियां सुनिश्चित की जा सकें।

किरण बेदी ने कहा, ‘‘ एक बार हम सत्ता में आए तो प्रत्येक सरकारी विभाग हमें श्वेत पत्र देंगे ताकि हम यह पता कर सके कि हम कहां हैं और हम कहां से शुरूआत कर रहे हैं। हमारे समक्ष लंबित मामले क्या हैं और नयी चुनौतियां क्या हैं। ये रिपोेर्टे विभागों की वेबसाइट पर रखी जाएंगी । हम दिल्ली को एक ऐसी सरकार प्रदान करेंगे जिसकी वह हकदार है।’’

कल एक रैली को संबोधित करते हुए पूर्व आईपीएस अधिकारी ने दिल्ली की मुख्यमंत्री बनने पर अपने पास शिक्षा और होमगार्ड विभाग रखने का संकेत दिया।

आज नामांकन भरने जाते समय उन्होंने एक रोडशो के दौरान कहा कि वह सुरक्षा सूचकांक शुरू करेंगी ताकि राजधानी के असुरक्षित इलाकों की पहचान की जा सके।

HOT DEALS
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback

उन्होंने कहा, ‘‘ संभवत: पहली बार दिल्ली में सूचना संबंधी सुरक्षा सूचकांक देखने को मिलेगा । इसके जरिये हम यह पता लगा सकेंगे कि कौन सा क्षेत्र सबसे अधिक असुरक्षित है, और कौन अधिक सुरक्षित है चाहे वह उत्तर, दक्षिण, पश्चित और पूर्वी क्षेत्र हो। इसके साथ ही हम साझा कारणों का पता लगा सकेंगे। ?

किरण बेदी आज कृष्णा नगर सीट से नामांकन पत्र दाखिल करेंगी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App