ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    Cong+ 101
    BJP+ 78
    RLM+ 0
    OTH+ 16
  • मध्य प्रदेश

    Cong+ 103
    BJP+ 102
    BSP+ 6
    OTH+ 5
  • छत्तीसगढ़

    Cong+ 52
    BJP+ 27
    JCC+ 8
    OTH+ 1
  • तेलांगना

    TRS-AIMIM+ 82
    TDP-Cong+ 25
    BJP+ 6
    OTH+ 6
  • मिजोरम

    MNF+ 25
    Cong+ 10
    BJP+ 1
    OTH+ 4

* Total Tally Reflects Leads + Wins

Kerala Rains News Updates: केरल में भारी बारिश की आशंका, चार जिलों में यलो अलर्ट

Kerala Rain News Updates, Kerala Weather Forecast Today : मुख्‍यमंत्री कार्यालय ने आपदा प्रबंधन और जिला प्रशासन को मुस्‍तैद रहकर हालात पर नजर रखने को कहा है।

Kerala Rains: केरल में अगले दो दिन तक भारी बारिश की आशंका जताई गई है। (Photo : AP)

Kerala Rain News Updates, Kerala Weather Forecast Today: मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों के दौरान केरल में भारी बारिश का अनुमान लगाया है। विभाग ने यलो अलर्ट जारी करते हुए कहा कि 25-26 सितंबर को राज्‍य के पांच जिलों में मूसलाधार वर्षा हो सकती है। मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन के कार्यालय ने कहा है कि मौसम विभाग ने पथानामथिट्टा, इदुक्‍की और वायानाड़ जिलो में भारी वर्षा की भविष्‍यवाणी की है। राज्‍य में पिछले महीने बारिश के के चलते बरपे कहर को देखते हुए प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है।

सीएमओ ने राज्‍य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण और जिला प्रशासन को अलर्ट रहकर जरूरी इंतजाम करने को कहा है। पहाड़ी जिलो इदुक्‍की, जहां एशिया का सबसे बड़ा आर्च डैम स्थित है, में सभी अधिकारी हाई अलर्ट पर रखे गए हैं। इस बांध का दरवाजा 26 साल बाद 9 अगस्‍त, 2018 को खोला गया था। पिछले महीने आई बाढ़ में सबसे ज्‍यादा नुकसान इसी जिले में हुआ था।

Live Blog

13:25 (IST) 24 Sep 2018
केरल की बाढ़ में ये जिले हुए थे प्रभावित

केरल में बाढ़ का पानी कम होने के बाद राहत शिविरों से अपने घरों को लौट रहे लोगों को सांपों और अन्य ऐसे जीवों तथा कीड़ों का सामना करना पड़ रहा है। एक सदी में सबसे विनाशकारी बाढ़ से त्रिसूर, अलप्पुझा, पथनामथित्ता, इडुक्की, कोझिकोड, एर्नाकुलम, मलप्पुरम और वायनाड आदि जिले सबसे ज्‍यादा प्रभावित हुए।

12:54 (IST) 24 Sep 2018
पिछले महीने केरल में आई थी सदी की सबसे भयावह बाढ़

केरल में पिछले महीने बाढ़ की वजह से 7,000 घर पूरी तरह से नष्ट हुए हैं और करीब 50,000 घरों को आंशिक रूप से नुकसान हुआ है। केरल में यह सदी की सबसे भयावह बाढ़ रही।

12:38 (IST) 24 Sep 2018
केरल के पुनर्निर्माण के लिए 30,000 करोड़ की जरूरत

राज्‍य के वित्त मंत्री थॉमस इसाक के अनुसार, बाढ़ प्रभावित केरल के पुनर्निर्माण के लिए 30,000 करोड़ रुपये की जरूरत है। पूंजीगत व्यय का इस्तेमाल सड़कों, पुलों, इमारतों के पुनर्निर्माण में किया जाएगा, जबकि राजस्व व्यय का इस्तेमाल कृषि फसलों व इसके अलावा घरों के नुकसान के मुआवजे और बाढ़ से प्रभावित प्रत्येक परिवार को 10,000 रुपये देने में होगा। इसाक ने कहा, "सार्वजनिक योगदान के जरिए 6,000 करोड़ रुपये नकद मिलने की उम्मीद है। इसके अलावा अन्य 4,000 करोड़ रुपये महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम 2005 और राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन जैसे व अन्य केंद्र द्वारा प्रायोजित योजनाओं से मिलेंगे।"

12:22 (IST) 24 Sep 2018
अब भी राहत शिविरों में रह रहे हैं हजारों लोग

पिछले महीने बाढ़ के कारण एक समय राज्‍य के 14.50 लाख लोगों को 3,000 राहत शिविरों में रहने को मजबूर होना पड़ा था। केरल सरकार ने तब कहा था कि वह एक साल तक ऐसा कोई समारोह आयोजित नहीं करेगी जिसमें अधिक राशि खर्च होती हो। इसके बजाए उस राशि को बाढ़ राहत के लिए प्रयोग किया जाएगा।