ताज़ा खबर
 

केरल के DGP ने कहा- मेरी आपत्ति के बावजूद हादसे की अगली सुबह ही कोल्लम दौरे पर अड़े रहे PM

केरल पुलिस ने एक मंदिर में रविवार को भीषण आग लगने से 100 से ज्‍यादा लोगों की हुई मौत की घटना के तुरंत बाद पीएम के तुरंत कोल्‍लम दौरे का विरोध किया था।

Author चेन्‍नई | April 15, 2016 7:49 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केरल के सीएम ओमन चांडी के साथ कोल्‍लम आग त्रासदी के घायलों के हालचाल पूछते हुए। (Photo: PIB)

केरल पुलिस ने एक मंदिर में रविवार को भीषण आग लगने से 100 से ज्‍यादा लोगों की हुई मौत की घटना के तुरंत बाद पीएम के तुरंत कोल्‍लम दौरे का विरोध किया था। केरल पुलिस ने कहा था कि ऐसे वक्‍त में जब राज्‍य प्रशासन राहत और बचाव कार्य में व्‍यस्‍त है, तब पीएम का वहां आना एक अच्‍छा आइडिया नहीं था।

केरल के डीजीपी टीपी सेनकुमार ने गुरुवार को द इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत में कहा कि पीएम के दौरे ने पुलिस को भीषण दबाव में ला दिया। डीजीपी के मुताबिक, वे पीएम के दुर्घटना स्‍थल के दौरे के विचार के खिलाफ थे क्‍योंकि पुलिस फोर्स का पीएम के लिए त्रुटिहीन सुरक्षा इंतजाम करना बेहद मुश्‍किल था।

डीजीपी ने कहा, ”मैं दुघर्टना के 12 घंटे के भीतर पीएम के इलाके में विजिट के विचार के खिलाफ था। मैं उन लोगों को बताया कि बेहतर होता अगर पीएम घटनास्‍थल का कम से कम एक दिन बाद दौरा करते। हालांकि, मोदी ने जोर दिया कि वे उसी दिन दौरा करना चाहते हैं। हमारी पूरी फोर्स बचाव कार्य में सुबह से जुटी हुई थी, बहुत सारा काम बाकी भी था, वे बहुत थके हुए थे क्‍योंकि उनके पास पीने के पानी का सप्‍लाई नहीं था। इसके बावजूद, हमने पीएम मोदी और कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी की सुरक्षा के इंतजाम किए।”

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15444 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback

सेन कुमार ने राज्‍य के होम सेक्रेटरी को गुरुवार को सौंपी रिपोर्ट में कहा कि कोल्‍लम जिला प्रशासन इस हादसे के लिए जिम्‍मेदार है। उन्‍होंने यह भी कहा है कि राहत और बचाव कार्य में मदद करने में वहां का जिला प्रशासन नदारद था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App