ताज़ा खबर
 

हिंसा और तनाव के बीच कश्मीरी युवकों ने सेना के जवान को बचाया, VIDEO वायरल

कश्मीर में सुरक्षाबलों और लोगों के बीच जारी हिंसा और तनाव के बीच शनिवार को एक मामला सामने आया। यहां एक कश्मीरी शख्स ने जवान की जान बचाई।
Author नई दिल्ली | October 9, 2016 19:28 pm
कश्मीरी ने बचाई सेना के जवान को बचाया (Photo Source: ANI Video)

कश्मीर में सुरक्षाबलों और लोगों के बीच जारी हिंसा और तनाव के बीच शनिवार को एक मामला सामने आया। यहां एक कश्मीरी युवकों ने जवान की जान बचाई। श्रीनगर के लसजन एरिया में बाईपास के पास एक दुर्घटना में जवान क्षतिग्रस्त वाहन के अंदर फंस गया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि ड्राइवर के कंट्रोल खोने के चलते सेना का वाहन सड़क से हट गया और पेड़ से टकरा गया। बुरी तरह से क्षतिग्रस्त गाड़ी में सेना का एक जवान फंस गया। सेना की बाकी जवान साथी को बाहर निकालने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन वह कामयाब नहीं हो सके।

अधिकारी ने बताया कि कश्मीरी युवक मौके पर पहुंचे और जवान की बाहर निकालने की कोशिश की। उन्होंने घायल जवान को बाहर निकालने के लिए सेना की क्षतिग्रस्त गाड़ी के बराबर में ट्रक को खड़ा किया। जिसके बाद लोगों ने जवान को बाहर निकाला। रास्ते से गुजर रहे कुछ लोगों ने इस वाक्ये का वीडियो शूट किया। इस घटना का वीडियो यू-ट्यूब और सोशल नेटवर्किंग साइट पर शेयर किया जा रहा है।

वीडियो: कश्मीरी स्टूडेंट्स को दी जा रही है डिजास्टर मैनेजमेंट की ट्रेनिंग

गौरतलब है कि यह घटना ऐसे समय सामने आई है जब कश्मीर में सुरक्षाबलों और लोगों के बीच लगातार हिंसक झड़प जारी है। आतंकी संगठन हिजबुल-मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी के 8 जुलाई को सुरक्षाबलों के हाथों मारे जाने के बाद से घाटी में हिंसा और तनाव व्याप्त है। इस हिंसा में अब तक 84 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों की संख्या में लोग घायल हैं।

READ ALSO: कश्मीर: पुलवामा के एक गांव पर आतंकी हमला, पुलिसवालों के छीने हथियार

इससे पहले जुलाई महीने में स्‍थानीय मुसलमानों ने अमरनाथ यात्र‍ियों को बचाने के लिए खुद की जान खतरे में डाली थी। कर्फ्यू की बंदिशों के बावजूद स्‍थानीय मुसलमानों ने जम्‍मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे नंबर एक पर हुए सड़क हादसे के घायलों की मदद की। यह हादसा अनंतनाग जिले के बिजबेहारा कस्‍बे के करीब हुआ। श्रद्धालुओं से भरी मिनी बस दुर्घटनाग्रस्‍त हो गई थी। बिहबेहारा कस्‍बे के निवासी राज्‍य में हुई हिंसा में अपने दो लोगों को गंवाने के बाद दुख में थे। हालांकि, वे निजी दुख और कर्फ्यू को नजरअंदाज करते हुए मौके पर पहुंचे और घायल श्रद्धालुओं को बचाया। एक प्रत्‍यक्षदर्शी ने न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस को बताया, ‘स्‍थानीय मुसलमान घायल श्रद्धालुओं को निजी गाडि़यों से अस्‍पताल ले गए। कुछ लोग उन्‍हें श्रीनगर के अस्‍पताल ले गए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.