ताज़ा खबर
 

पूर्व कश्‍मीरी आतंकियों की पत्नियों ने वापस मांगे यात्रा दस्‍तावेज, लौटना चाहती हैं पाकिस्‍तान

2001 में मुख्यमंत्री रहे उमर अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर के युवाओं के लिए पुनर्वास नीति की घोषणा की थी। घाटी के विभिन्न हिस्सों से आई महिलाएं अपनी मांगों के लिए रेजीडेंसी रोड पर एकजुट हुईं।

Author श्रीनगर | Updated: February 3, 2019 11:30 AM
श्रीनगर में प्रदर्शन करतीं महिलाएं। (Photo : PTI)

आतंकवादियों के लिए पुनर्वास नीति के तहत अपने पतियों के साथ जम्मू कश्मीर आई पाकिस्तान की महिलाओं के एक समूह ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष इमरान खान से घर वापसी के लिए यात्रा दस्तावेज देने की अपील की। उन्होंने दावा किया कि उन्हें स्थायी निवासी का प्रमाणपत्र नहीं दिया गया जिसका वादा किया गया था। वर्ष 2010 में नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष और उस समय मुख्यमंत्री रहे उमर अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर के युवाओं के लिए पुनर्वास नीति की घोषणा की थी जो हथियारों के प्रशिक्षण के लिए नियंत्रण रेखा पार चले गए थे लेकिन उन्होंने आतंकवाद का रास्ता छोड़ दिया और वे अब सामान्य जीवन व्यतीत करने के लिए घर लौटना चाहते थे।

महिलाओं ने एक बयान में कहा, ‘‘जब से हम उमर अब्दुल्ला सरकार द्वारा घोषित की गई पुनर्वास नीति के तहत अपने पति और बच्चों के साथ यहां आए है तब से हमें पीआरसी दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराये गये।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसके विपरीत हमारे खिलाफ प्राथमिकियां दर्ज की गई और अब हम अनावश्यक रूप से अदालती मामलों में फंसे हैं।’’

कश्मीर घाटी के विभिन्न हिस्सों से आई महिलाएं अपनी मांगों के लिए रेजीडेंसी रोड पर एकजुट हुईं। उन्होंने कहा, ‘‘हम भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों और विदेश मंत्रियों से मानवीय आधार पर हमें दस्तावेज जारी किये जाने की अपील करते हैं। अगर वे हमें यात्रा दस्तावेज नहीं देते है तो हमें भेजा जाना चाहिए।’’ महिलाओं ने कहा कि जब से वे राज्य में आई हैं तब से पाकिस्तान में अपने परिवारों से मुलाकात नहीं कर पाई है।

महिलाओं ने दावा किया, ‘‘माता-पिता समेत हमारे कई करीबी रिश्तेदारों की इस दौरान मौत हो गई। हम अपने रिश्तेदारों की फिक्र में परेशान रहते हैं और हम में से कुछ मनोरोग संबंधी समस्याओं से जूझ रही हैं।’’

Next Stories
1 पाकिस्‍तानी विदेश मंत्री ने हुर्रियत के एक और नेता को किया फोन, भारत ने दी चेतावनी
2 पीएम नरेंद्र मोदी के बाद अब राहुल का भी स्‍टूडेंट्स पर फोकस, चीनी रेस्‍तरां में कराया डिनर
3 कैमरे पर आई बापू के पुतले पर गोली चलाने वाली ‘लेडी गोडसे’, नोटों पर गांधी जी का फोटो छापने पर उठाए सवाल
ये पढ़ा क्या?
X