ताज़ा खबर
 

कश्‍मीर:घाटी में दो प्रदर्शनकारियों की मौत के बाद स्‍कूल-कॉलेज बंद, भारी सुरक्षा बल तैनात

मंत्रालय ने कहा कि इससे दोनों देशों के बीच हर स्थिति में सामरिक रूप से महत्वपूर्ण सहयोगात्मक भागीदारी की झलक मिलती है। वांग पाकिस्तान से नेपाल जाएंगे।

Army soldiers, militant, Shopian encounter, jammu and kashmirप्रशासन ने श्रीनगर पुराने शहर और ऊपरी इलाकों में भारी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की है। (PTI)

कश्मीर घाटी में रविवार को दो प्रदर्शनकारियों की मौत के बाद सोमवार को शैक्षणिक संस्थान बंद रहे। प्रशासन ने यह जानकारी दी। सोमवार के लिए नियत सभी परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। शोपियां, कुलगाम और चदूरा इलाकों में इंटरनेट सेवाएं स्थगित कर दी गईं और घाटी व जम्मू के बनिहाल शहर के बीच रेल सेवाएं रद्द कर दी गईं। काकापोरा और शोपियां शहरों में सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष के दौरान पैलेट्स से घायल हुए ओवैस अहमद डार और मोहम्मद सईद बट की मौत हो गई थी।

रविवार को शोपियां के अवनीरा गांव में हिजबुल मुजाहिद्दीन के ऑपरेशनल कमांडर यासीन याटू समेत तीन आतंकियों के एक मुठभेड़ में मारे जाने के बाद दक्षिण कश्मीर के कई इलाकों में पत्थरबाज प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच झड़पें शुरू हो गई थीं। याटू 1997 में प्रतिबंधित संगठन में शामिल हुआ था। मुठभेड़ में दो जवान भी शहीद हो गए। प्रशासन ने श्रीनगर पुराने शहर और ऊपरी इलाकों में भारी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की है। साथ ही रैनावारी, खानयार, नौहाटा, एम.आर. गंज और सफा कदल के पांच थाना क्षेत्रों में प्रतिबंधों की घोषणा भी की गई है।

बता दें कि रविवार को शोपियां जिले में हुई मुठभेड़ में दो जवान शहीद हो गए थे, जबकि तीन आतंकवादी मारे गए थे। शोपियां जिले के अवनीरा गांव में एक घर में ये आतंकवादी छिपे हुए थे। इस दौरान दर्जन भर पत्थरबाज भी सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष में घायल हुए। सुरक्षा बलों व आतंकवादियों के बीच करीब 24 घंटे गोलीबारी चली। शोपियां जिले के अवनीरा गांव में गोलीबारी के दौरान मारे जाने वालों में हिजबुल का आपरेशनल कमांडर यासीन इत्तू उर्फ महमूद गजनवी भी शामिल था।

अन्य दो मारे गए आतंकवादियों की पहचान उमर माजिद और इरफान के तौर पर हुई है। इससे पहले माना जा रहा था कि तीसरा आतंकवादी अदिल मलिक है। इत्तू को यट्टू भी बुला जाता है। वह बडगाम जिले के चडोरा का निवासी था। वह 1997 में आतंकी समूह में शामिल हुआ था और तभी से आतंकी गतिविधियों में शामिल था। तीनों मारे गए आतंकवादी हिजबुल मुजाहिदीन से थे। उनके पास से तीन एके-47 राइफल बरामद हुईं हैं।

सुरक्षा बलों ने अवनीरा में आतंकवादियों के छिपने के ठिकाने को विस्फोट से उड़ा दिया। जम्मू एवं कश्मीर पुलिस प्रमुख एस.पी. वैद ने इस सफलता को लेकर ट्वीट किया, “शोपियां में मारे गए एक आतंकवादी की पहचान यासीन इत्तू के रूप में हुई है। वह हिजबुल मुजाहिदीन का आपरेशनल कमांडर था।” इससे पहले की अपने पोस्ट में उन्होंने कहा, “आज सुबह में जेनपोरा शोपियां में तीन आतंकवादी मारे गए।”

अवनीरा गांव में सुरक्षा बलों के कार्रवाई के दौरान करीब दर्जन भर से ज्यादा युवक पत्थरबाजी के दौरान घायल हुए। प्रदर्शनकारियों को गोली से घायल होने पर उन्हें श्रीनगर शहर के अस्पताल में भर्ती कराया गया। गोलीबारी में सेना के पांच जवान घायल हुए। दो घायल जवानों की बाद में मौत हो गई। घायल जवानों का श्रीनगर के बदामी बाग इलाके में सेना के अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Next Stories
1 डोकलाम विवाद के बावजूद चीन से बढ़ा कारोबार, भारत ने मंगवाया 33% ज्‍यादा रकम का सामान
2 मोदी सरकार का सर्कुलर ममता सरकार ने नकारा, कहा- देशभक्ति ना सिखाए भाजपा
3 भारत को हमला करके POK पर कर लेना चाहिए कब्जा, करवा दे पाकिस्तान के 3 टुकड़े: बाबा रामदेव
यह पढ़ा क्या?
X