ताज़ा खबर
 

Karnataka Municipal Election Results 2018: निकाय चुनाव में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी, दूसरे नंबर पर बीजेपी

Karnataka Municipal Election Results 2018, Karnataka Urban Local Body Election Results 2018: इन चुनावों में रिकॉर्ड 68 प्रतिशत वोट डाले गए थे। ये वोट मैसूर, शिवमोगा और तुमाकुरु शहर के 2662 सिविक वार्ड, 29 नगर निगम, 23 कस्बा पंचायतों और 135 वार्डों के लिए डाले गए हैं।

Author Sep 03, 2018 21:02 pm
कांग्रेस और जद(एस) ने मिलकर 1,339 सीटें जीती हैं जिसके साथ उन्हें स्पष्ट तौर पर भाजपा पर बढ़त और यूएलबी की अधिकतम सीटों पर कब्जा मिल गया है।

Karnataka Municipal Election Results 2018 , Karnataka Urban Local Body Election Results 2018: कर्नाटक के शहरी स्थानीय निकाय चुनावों में कांग्रेस को सोमवार को भाजपा से कड़ी चुनौती मिली लेकिन सत्तारूढ़ गठबंधन में सहयोगी दल जद(एस) के साथ चुनाव के बाद किए गए गठबंधन के चलते वह स्थानीय निकाय में बहुमत में है। राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, शनिवार को हुए चुनावों में कांग्रेस को 982 सीटों पर जीत मिली और भाजपा के खाते में 929 सीटें आयीं। अभी तक 2,709 में से 2,662 सीटों के नतीजे घोषित किए गए हैं। जनता दल सेकुलर को 375 सीटें मिली हैं, जबकि निर्दलीय 329 सीट जीतनें में कामयाब रहे हैं।

राज्य सरकार में गठबंधन में होने के बावजूद कांग्रेस और जद(एस) ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था लेकिन उन्होंने पहले ही एलान कर दिया कि वे शहरी निकाय चुनावों के बाद गठबंधन करेंगे। कांग्रेस और जद(एस) ने मिलकर 1,339 सीटें जीती हैं जिसके साथ उन्हें स्पष्ट तौर पर भाजपा पर बढ़त और यूएलबी की अधिकतम सीटों पर कब्जा मिल गया है। यह चुनाव कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन सरकार के लिए परीक्षा मानी जा रही थी। राज्य में तीन नगर निगमों, 29 नगर परिषदों, 52 शहरी नगर परिषदों और 20 शहरी पंचायतों के लिए चुनाव हुए।

एसईसी ने अपनी वेबसाइट पर कहा है, “31 अगस्त को हुए निकाय चुनाव में, कांग्रेस ने कुल 2,662 सीटों में से 982 सीटें जीत ली हैं, जिसमें से 10 जिलों बेल्लारी, बिदर, गडक, मैसुरू, उत्तर कन्नड़ और रायचुर में पार्टी ने बहुमत हासिल किया है।” निकाय चुनाव के नतीजे दिखाते हैं कि भाजपा ने तटीय जिलों के अपने पारंपरिक गढ़ में अच्छा प्रदर्शन किया है, जबकि कांग्रेस ने उत्तरी जिलों में अपनी बादशाहत कायम रखी है। राज्य के उत्तरी क्षेत्र के विजयपुरा जिले में कुल 23 सीटों में से कांग्रेस और भाजपा दोनों ने आठ-आठ सीटों पर कब्जा किया है, वहीं जद(एस) ने दो सीटें तो निर्दलीयों ने पांच सीटों पर कब्जा किया है।

जद(एस) के एक पदाधिकारी ने आईएएनएस से पहले कहा था, “अगर कोई पार्टी खुद के दम पर बहुमत हासिल नहीं कर पाएगी तो, कांग्रेस और जद (एस) ने निर्णय लिया है कि वे भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए चुनाव बाद गठबंधन करेंगे, जैसा 12 मई को राज्य विधानसभा के चुनाव में किया गया था।” निकाय चुनावों के लिए राज्य में 67.5 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया था। भारी बारिश और बाढ़ के चलते कोडागु जिले की 45 सीटों पर चुनाव रद्द कर दिया गया था। साल 2013 में 4,976 सीटों पर शहरी निकाय चुनाव हुए थे। कांग्रेस ने 1,960 सीटें जीती थीं, जबकि भाजपा और जद(एस) ने अलग-अलग 905 सीटें जीती थीं और निर्दलियों ने 1,206 सीटें जीती थीं।

Live Blog

17:22 (IST) 03 Sep 2018
नतीजों से गदगद सीएम

कर्नाटक के स्थानीय निकाय चुनाव के नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए सीएम एचडी कुमारस्वामी ने कहा है कि शहरी वोटर आमतौर पर बीजेपी को वोट देते हैं। लेकिन इस नतीजे के आने के बाद साफ हुआ है कि शहरी मतदाताओं ने भी कांग्रेस और जेडीएस के गठबंधन में पूर्ण विश्वास जताया है।

16:32 (IST) 03 Sep 2018
हम कामयाब हुए हैं- कर्नाटक निकाय नतीजों के बाद बोले देवगौड़ा

कर्नाटक के स्थानीय निकाय के नतीजों के बाद पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस के वरिष्ठ नेता एचडी देवगौड़ा ने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के अपने मकसद में कामयाब हुई है। 

16:02 (IST) 03 Sep 2018
कांग्रेस, जद(एस) में नतीजों के बाद गठबंधन की पूरी संभावना

कांग्रेस और जद(एस) ने नगर निकाय के चुनाव भले ही अलग-अलग लड़ने का फैसला किया हो, लेकिन चुनावी नतीजों के बाद दोनों पार्टियों में गठबंधन होने की पूरी संभावना है। भाजपा इन चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है, लेकिन कांग्रेस और जद(एस) के गठबंधन के कारण भाजपा को बहुमत नहीं मिल सका है।

15:43 (IST) 03 Sep 2018
एसिड अटैक में 8 लोग घायल

एसिड अटैक में पीड़ित व्यक्तियों की तस्वीरें

15:39 (IST) 03 Sep 2018
बीएस येदियुरप्पा ने मानी हार

कर्नाटक में भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा ने नगर निकाय चुनावों में अपनी हार स्वीकार कर ली है। येदियुरप्पा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में भाजपा गठबंधन सरकार के कारण अपनी गणना के हिसाब से प्रदर्शन नहीं कर पायी। हालांकि उन्होंने 2019 लोकसभा चुनावों में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद जतायी।

15:21 (IST) 03 Sep 2018
तुमकुर में जीत के बाद निकाले जा रहे जुलूस पर एसिड अटैक

तुमकुर में कांग्रेस उम्मीदवार इनायतुल्ला खान की जीत के बाद निकाले जा रहे जुलूस पर एसिड अटैक होने की खबर है। इस हमले में 8 लोग घायल हो गए हैं।

15:18 (IST) 03 Sep 2018
सिटी कॉरपोरेशन में भाजपा को बढ़त

सिटी कॉरपोरेशन की सभी 135 सीटों के लिए वोटों की गिनती समाप्त हो गई है। नतीजों के मुताबिक यहां भाजपा को 54, कांग्रेस को 36 और जद(एस) को 30 सीटें हासिल हुई हैं। स्वतंत्र उम्मीदवारों को यहां 14 सीटें मिली हैं।

14:25 (IST) 03 Sep 2018
कांग्रेस अभी तक सबसे आगे, 982 सीटों पर जीती

2709 सीटों में 2662 सीटों के नतीजें दोपहर 2 बजे तक घोषित हो चुके हैं। अभी तक के नतीजों के अनुसार, भाजपा को 929 सीटों पर और कांग्रेस को 982 सीटों पर जीत मिली है। जद(एस) 375 सीटें जीतकर तीसरे स्थान पर है। इस चुनाव में 329 स्वतंत्र उम्मीदवारों को भी जीत मिली है।

14:22 (IST) 03 Sep 2018
इतने उम्मीदवार चुनाव मैदान में

कुल 8,340 उम्मीदवार मैदान में हैं। शहरी निकाय चुनावों में में कांग्रेस के 2,306 उम्मीदवार, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 2,203 और जनता दल-सेकुलर (जेडी-एस) के 1,397 मैदान में हैं जबकि 814 शहर निगमों में चुनाव लड़ रहे हैं, जिनमें कांग्रेस से 135, भाजपा से 130 और जेडी-एस से 129 उम्मीदवार शामिल हैं।

13:44 (IST) 03 Sep 2018
स्थानीय चुनावों पर मल्लिकार्जुन खड़गे का बयान

मल्लिकार्जुन खड़गे ने बताया बराबरी की टक्कर

13:42 (IST) 03 Sep 2018
चित्रदुर्ग जिले में भाजपा आगे

चित्रदुर्ग जिले की सभी 89 सीटों के नतीजे आ चुके हैं। यहां भाजपा को 35 सीटें मिली हैं। कांग्रेस को 25 सीटों और जद(एस) को 16 सीटों पर जीत मिली है। यहां से स्वतंत्र उम्मीदवारों को भी जीत हासिल हुई है।

13:19 (IST) 03 Sep 2018
टाउन पंचायत के लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा

कर्नाटक की 400 टाउन पंचायतों पर चुनाव कराए गए थे। फिलहाल 355 टाउन पंचायतों के नतीजे आ चुके हैं। इन नतीजों के अनुसार कांग्रेस को 138 सीटें मिली हैं। भाजपा को 130, जद(एस) 29 और स्वतंत्र उम्मीदवारों को 57 सीटों पर जीत मिली है।

13:19 (IST) 03 Sep 2018
रायचूर से कांग्रेस को जीत

कर्नाटक के रायचूर जिले में 175 सीटों के लिए चुनाव हुआ था। सभी सीटों के नतीजे आ चुके हैं। नतीजों के मुताबिक यहां कांग्रेस को सबसे ज्यादा 90 सीटें मिली हैं। वहीं जद(एस) को 40 सीटों से ही संतोष करना पड़ा है। भाजपा यहां सिर्फ 23 सीटें ही जीत सकी है। स्वतंत्र उम्मीदवार यहां 17 सीटें जीतने में सफल रहे।

13:06 (IST) 03 Sep 2018
कुल इन-इन सीटों के लिए डाले गए थे वोट

जिन 2709 सीटों पर चुनाव हुए हैं। उनमें से सिटी कॉरपोरेशन की 135 सीटें, सिटी म्यूनिसिपैलिटीज की 927 सीटें, टाउन म्यूनिसिपैलिटीज की 1247 सीटें और टाउन पंचायत की 400 सीटें शामिल हैं।

12:54 (IST) 03 Sep 2018
भाजपा पिछड़ी, कांग्रेस ने बनायी बढ़त

राज्य की कुल 2709 सीटों में से 2454 सीटों के नतीजे आ चुके हैं। इसमें से भाजपा को 855 सीटें मिली हैं। कांग्रेस ने बढ़त बनाते हुए 913 सीटों पर कब्जा किया है। जद(एस) यहां 330 सीटें जीतने में सफल रही है। वहीं 307 स्वतंत्र उम्मीदवार चुनाव जीत चुके हैं।

12:51 (IST) 03 Sep 2018
कर्नाटक के सिटी कॉरपोरेशन में भाजपा मजबूत

कर्नाटक के इन चुनावों में सिटी कॉरपोरेशन की 135 सीटों पर वोट डाले गए थे, जिनमें मैसूर, शिवमोगा और तुमकुरु के सिटी कॉरपोरेशन शामिल हैं। अभी तक आए नतीजों के अनुसार, भाजपा के खाते में 31 सीटें आयी हैं, वहीं कांग्रेस और जद(एस) को क्रमशः 20 और 19 सीटें मिली हैं।

12:39 (IST) 03 Sep 2018
गादग जिले में भाजपा कांग्रेस में रही कांटे की टक्कर

कर्नाटक के गादग जिले में भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। यहां कि 123 सीटों के नतीजे आ चुके हैं, जिनमें से 54 सीटें भाजपा और 57 सीटें कांग्रेस के खाते में गई हैं। जद(एस) को यहां सिर्फ 2 सीटों से संतोष करना पड़ा है। स्वतंत्र उम्मीदवारों को यहां 10 सीटों पर जीत मिली है।

12:20 (IST) 03 Sep 2018
बागलकोट में भाजपा उम्मीदवार ने कुछ इस तरह मनाया जीत का जश्न
12:18 (IST) 03 Sep 2018
दक्षिण कन्नड़ जिले में भाजपा का दबदबा

कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में सभी 89 सीटों के नतीजे आ चुके हैं। इस जिले में भाजपा को सबसे ज्यादा सीटें मिली हैं। यहां भाजपा 42, कांग्रेस 30 और जद(एस) 4 सीटों पर जीती है।

12:18 (IST) 03 Sep 2018
200 से ज्यादा सीटों पर स्वतंत्र उम्मीदवारों को मिली जीत

कर्नाटक की 2709 सीटों के लिए हुए चुनाव में स्वतंत्र उम्मीदवारों को 233 सीटों पर अभी तक जीत मिली है। खासकर बेलगावी जिले में 200 सीटों में से 92 सीटों पर स्वतंत्र उम्मीदवार जीते हैं।

12:17 (IST) 03 Sep 2018
हसन जिले में जद(एस) आगे

हसन जिले की कुल 135 सीटों में से 74 के नतीजे आ चुके हैं। जिसके मुताबिक जद(एस) सबसे आगे है और 46 सीटों पर जीत दर्ज कर चुकी है। वहीं भाजपा और कांग्रेस के खाते में क्रमशः 10 और 13 सीटें आयी हैं।

12:05 (IST) 03 Sep 2018
मैसूर की सिटी कॉरपोरेशन में कांग्रेस का दबदबा

मैसूर, शिवमोगा और तुमकुरु सिटी कॉरपोरेशन की कुल 135 सीटों में से 12 सीटों के नतीजे आ चुके हैं। जिसमें कांग्रेस पार्टी को 7 सीटों पर, भाजपा को 2 सीटों पर, 2 सीटों पर स्वतंत्र उम्मीदवार और एक सीट पर जद(एस) के उम्मीदवार को जीत मिली है।

11:58 (IST) 03 Sep 2018
मैसूर में कांग्रेस और जद(एस) में मुकाबला

मैसूर में जद(एस) और कांग्रेस में कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। 134 सीटों वाले मैसूर में अभी तक 61 सीटों के नतीजे घोषित किए गए हैं। जिनके अनुसार, जद(एस) को 25 और कांग्रेस को 24 सीटों पर जीत मिली है। भाजपा को यहां अभी तक सिर्फ 4 सीटें ही मिल सकी हैं।

11:39 (IST) 03 Sep 2018
बेलगावी में स्वतंत्र उम्मीदवार आगे

बेलगावी जिले में अभी तक निर्दलीय उम्मीदवार बाजी मारते नजर आ रहे हैं। बेलगावी की कुल 343 स्थानीय सीटों में से 112 सीटों के नतीजे आ चुके हैं। इन नतीजों के अनुसार, स्वतंत्र या निर्दलीय उम्मीदवारों ने 50 सीटों पर जीत दर्ज की है, वहीं भाजपा को 50 और कांग्रेस के खाते में 18 सीटें गई हैं।

11:19 (IST) 03 Sep 2018
1412 सीटों के नतीजे हुए घोषित

31 अगस्त को कुल 2664 अर्बन लोकल बॉडीज सीटों पर हुए चुनावों में से 1412 सीटों के नतीजे घोषित हो चुके हैं। कांग्रेस के हिस्से में अभी तक 560, भाजपा के हिस्से में 499 और जद(एस) के खाते में 178 सीटें आयी हैं। वहीं 150 सीटें स्वतंत्र उम्मीदवारों को मिली हैं।

11:07 (IST) 03 Sep 2018
यादगीर जिले में कांटे की टक्कर जारी

यादगीर जिले की कुल 85 सीटों में से 80 सीटों के रिजल्ट घोषित कर दिए गए हैं। जिसमें भाजपा को 33 सीटों, कांग्रेस को 34 सीटों और जद(एस) को 11 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

11:05 (IST) 03 Sep 2018
जिलेवार सीटों का ब्यौरा

जिलेवार सीटों का ब्यौरा देखने पर पता चलता है कि भाजपा और कांग्रेस में अभी तक कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है।