ताज़ा खबर
 

Karnataka Political Crisis : विधानसभा स्पीकर की रिपोर्ट के आधार पर सुप्रीम कोर्ट दे सकता है फैसला

Karnataka Political Crisis : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह सत्तारूढ़ गठबंधन के बागी विधायकों के इस्तीफे के ‘स्वैच्छिक और वास्तविक’ होने की जांच करेंगे।उन्होंने बागी विधायकों से मुलाकात के बाद कहा कि कर्नाटक विधानसभा नियम के अनुसार इस्तीफे को ‘सही प्रारूप’ में होना चाहिए।

Author बेंगलुरु | Jul 11, 2019 21:50 pm
भाजपा नेताओं ने बुधवार को विधानसभा के बाहर धरना प्रदर्शन किया। (PTI Photo/Shailendra Bhojak)

Karnataka Political Crisis : कांग्रेस-जेडीएस के गठबंधन से भले ही 16 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है लेकिन अभी इस्तीफे को लेकर विधानसभा अध्यक्ष का फैसला बाकि है, ऐसे में विधानसभा में सदस्य की संख्या 224 ही रहेगी।बागी विधायकों ने गुरुवार को विधानसभा अध्यक्ष से मुलाकात की। शुक्रवार तक स्पीकर की रिपोर्ट के आधार पर आगे सुप्रीम कोर्ट फैसला दे सकता है।  विधानसभा अध्यक्ष ने इस मामले में अपनी फैसला नहीं सुनाया है। उनका कहना है कि उन्होंने विधायकों से मुलाकात की वीडियो रिकॉर्डिंग कराई है और वह उसे सुप्रीम कोर्ट के पास भेजेंगे। उनका कहना है कि उनसे मिले विधायकों ने बताया कि उन्हें धमकाया गया था और इस डर से वो मुंबई चले गए थे। विधानसभा अध्यक्ष का कहना है कि ऐसी स्थिति में विधायकों को उनसे बात करनी चाहिए थी , वह खुद उन्हें सुरक्षा मुहैया कराते, लेकिन विधायकों ने ऐसा बर्ताव किया जैसे भूकंप आ गया हो।

कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह सत्तारूढ़ गठबंधन के बागी विधायकों के इस्तीफे के ‘स्वैच्छिक और वास्तविक’ होने की जांच करेंगे।उन्होंने बागी विधायकों से मुलाकात के बाद कहा कि कर्नाटक विधानसभा नियम के अनुसार इस्तीफे को ‘सही प्रारूप’ में होना चाहिए।
कुमार ने कहा, ‘‘ दुर्भाग्यवश, पिछले सप्ताह मेरे कार्यालय में जो 13 पत्र आए थे, उनमें से आठ सही प्रारूप में नहीं थे।’’ उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि वह न तो मौजूदा राजनीतिकि स्थिति के लिए जिम्मेदार हैं और न ही इसके परिणाम के लिए जिम्मेदार हैं।  कुमार ने कहा, ‘‘ विधायकों ने अब अपना इस्तीफा सही प्रारूप में सौंपा है …मुझे इसकी जांच करनी होगी कि यह स्वैच्छिक और वास्तविक है या नहीं।’’ उन्होंने कहा कि वह पहले भी विधायकों को इसकी जानकारी दे चुके हैं कि अगर वह अपना इस्तीफा सौंपना ही चाहते हैं तो उन्हें दोबारा तय प्रारूप में अपना इस्तीफा सौंपना चाहिए।

Live Blog

Highlights

    21:18 (IST)11 Jul 2019
    इस्तीफे की जांच करेंगे स्पीकर

    कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह सत्तारूढ़ गठबंधन के बागी विधायकों के इस्तीफे के ‘स्वैच्छिक और वास्तविक’ होने की जांच करेंगे।उन्होंने बागी विधायकों से मुलाकात के बाद कहा कि कर्नाटक विधानसभा नियम के अनुसार इस्तीफे को ‘सही प्रारूप’ में होना चाहिए। 

    20:34 (IST)11 Jul 2019
    विधायकों को मुझे बताना चाहिए था

    कर्नाटक विधानसभा स्पीकर ने बताया कि बागी विधायकों का कहना है कि उनको धमकाया गया था और वह डर के मारे मुंबई भाग गए। मैंने उनसे कहा कि उन्हें इस बारे में मुझे बताना चाहिए है। मैंने उन्हें सुरक्षा दिलाता।  तीन दिन बीत चुके हैं लेकिन विधायकों ने ऐसा बर्ताव किया जैसे भूकंप आ गया हो।

    19:46 (IST)11 Jul 2019
    स्पीकर बोले मैं जल्दी में फैसला नहीं ले रहा...

    विधानसभा स्पीकर का कहना है कि विधायकों नें मुझसे बात नहीं की और सीधा गवर्नर के पास गए, वो क्या कर सकते हैं? क्या यह जल्दीबाजी और गलत नहीं है? मेरी प्रतिबद्धता राज्य के लोगों और संविधान के प्रति है। मैंने देरी की क्योंकि मैं कर्नाटक से प्रेम करता हूं, मैं जल्दबाजी में फैसले नहीं ले रहा।

    19:38 (IST)11 Jul 2019
    विधायकों के साथ मीटिंग की वीडियोग्राफी

    विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार  का कहना है कि उन्होंने विधायकों के साथ मीटिंग का वीडियो बनावाया है और वह इसे सुप्रीम कोर्ट को सौंपेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें इस मामलें में फैसला लेने का निर्देश दे चुका है।

    19:18 (IST)11 Jul 2019
    विधानसभा स्पीकर का संबोधन

    विधानसभा स्पीकपर का संबोधन

    18:30 (IST)11 Jul 2019
    विधानसभा अध्यक्ष से मिलने पहुंचे बागी विधायक

    विधानसभा अध्यक्ष से मिलने पहुंचे बागी विधायक।

    18:01 (IST)11 Jul 2019
    10 विधायकों के मामले में आदेश पारित

    मामले की सुनवाई शुरू होते ही पीठ ने स्पष्ट किया कि वह सिर्फ उन 10 विधायकों के मामले में आदेश पारित कर रही है जो हमारे पास आए हैं, अन्य के लिये नहीं। अगर बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए जाते हैं तो सत्तारूढ़ गठबंधन के समर्थक विधायकों की संख्या 106 हो जाएगी जबकि भाजपा को 107 विधायकों का समर्थन हासिल है। राज्य की 224 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 113 है।

    17:25 (IST)11 Jul 2019
    फ्लोर टेस्ट के मूड में नहीं है बीजेपी

    कांग्रेस-जेडीएस के गठबंधन से भले ही 16 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है लेकिन अभी इस्तीफे को लेकर विधानसभा अध्यक्ष का फैसला बाकि है, ऐसे में विधानसभा में सदस्य की संख्या 224 ही रहेगी और बीजेपी फिलहाल विश्वास मत और फ्लोर टेस्ट के पक्ष में नहीं है।दरअसल ऐसा इसलिए हैं क्योंकि फ्लोर टेस्ट की स्थिति में गठबंधन अपने सभी विधायकों पर व्हीप लगा देगी और विश्वासमत आसानी से पास कर लेगी।

    17:14 (IST)11 Jul 2019
    मामले पर तत्काल सुनवाई से इनकार

    प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने मामले पर तत्काल सुनवाई से इनकार कर दिया। लेकिन, अदालत ने अध्यक्ष के आवेदन को दायर करने की अनुमति दी है।मामले  को लेकर बाद में सुनवाई हो सकती है।

    16:11 (IST)11 Jul 2019
    यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन

    कोलकाता में यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं नें कर्नाटक में चल रहे सियासी संकट को लेकर बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन किया।हालांकि बाद में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाया।

    15:58 (IST)11 Jul 2019
    बागी विधायकों को स्पीकर से मिलने का निर्देश

    सीएम एचडी कुमार स्वामी और कांग्रेस नेता डी शिवकुमार और अन्य नेता विधान सौधा सुरक्षा का जायजा लेने पहुंचे हैं।बागी विधायकों को सुप्रीम कोर्ट ने आज 6 बजे विधानसभा स्पीकर से मिलने और दोबारा इस्तीफा सौंपने का निर्देश दिया है।

    15:44 (IST)11 Jul 2019
    स्पीकर पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

    कर्नाटक में जारी घमासान पर सुप्रीम कोर्ट ने आज अपने फैसले में आदेश दिया कि बागी विधायक आज बेंगलुरु जाएं और वहां स्पीकर से मिलें। इसके बाद स्पीकर इस्तीफे पर कोई फैसला लें। सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को इस मामले पर फिर से सुनवाई करेगा। वहीं दूसरी तरफ कर्नाटक विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार ने भी अब सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। रमेश कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर बागी विधायकों पर फैसला लेने के लिए और समय देने की मांग की है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने आज इस मसले पर सुनवाई से इंकार कर दिया है। 

    15:02 (IST)11 Jul 2019
    बेंगलुरू के लिए रवाना हुए बागी विधायक

    हवाई अड्डे पहुंचे बागी विधायक

    14:27 (IST)11 Jul 2019
    बेंगलुरू के लिए कुछ ही देर में निकलेंगे बागी विधायक

    सुप्रीम कोर्ट के बागी विधायक दोपहर में 2-2.30 बजे के करीब बेंगलुरू के लिए निकल जाएंगे। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद  बागी विधायकों को बेंगलुरू में विधानसभा स्पीकर से मिलना होगा। हालांकि इस दौरान विधायकों की सुरक्षा का पूरा इंतजाम किया जाएगा। विधायक शाम  में 6 बजे के करीब विधानसभा स्पीकर से मुलाकात करेंगे।

    13:39 (IST)11 Jul 2019
    दो विधायक ठहराए जा सकते हैं अयोग्य

    सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में बागी विधायकों को गुरुवार को स्पीकर से मिलकर अपना इस्तीफा दोबारा सौंपने के निर्देश दिए हैं। खास बात ये है कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश सिर्फ 10 बागी विधायकों पर लागू होगा। अन्य विधायकों को लेकर असमंजस की स्थिति अभी भी बरकरार है। वहीं पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने गुरुवार को स्पीकर से मुलाकात की और उनसे निवेदन किया कि 16 बागी विधायकों में से 2 को अयोग्य ठहराया जाए। जिन दो विधायकों को अयोग्य ठहराया जा सकता है, उनमें रमेश जारकिहोली और महेश कुमाथल्ली का नाम शामिल बताया जा रहा है।

    13:34 (IST)11 Jul 2019
    'भाजपा लोकतांत्रिक रुप से चुनी गई सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है'

    कांग्रेस लगातार कर्नाटक के मौजूदा राजनैतिक संकट के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहरा रही है। अब कर्नाटक सरकार ने ट्वीट कर कहा है कि भाजपा अपनी ताकत से राज्य की लोकतांत्रिक तरीके से चुनी गई सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है। ऑपरेशन लोट्स के तहत पैसे और ताकत की सभी सीमाएं लांघ दी गई हैं। विधायकों का अपहरण किया जा रहा है और उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है।

    12:45 (IST)11 Jul 2019
    बेंगलुरू डिपोर्ट किए जाने पर कांग्रेसी नेता ने भाजपा पर साधा निशाना

    बेंगलुरु पहुंचने पर शिवकुमार ने बताया कि मुंबई अपने स्वागत सत्कार के लिए जाना जाता है। मैंने वहां एक कमरा बुक किया था और अपने दोस्तों और सहयोगियों से मिलने के लिए मैं एक आधिकारिक दौरे पर गया था, लेकिन भाजपा और अधिकारियों ने अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल किया। यह शर्म की बात है। 

    12:02 (IST)11 Jul 2019
    डीके शिवकुमार बोले- उन्हें उम्मीद है कि बागी विधायक लौटेंगे और अपना इस्तीफा वापस लेंगे

    कांग्रेसी नेता और कर्नाटक सरकार में मंत्री डीके शिवकुमार का कहना है कि हमें विश्वास है कि विधायक हमारे साथ ही रहेंगे। मुझे उम्मीद है कि वो वापस आएंगे और अपना इस्तीफा वापस लेंगे।

    11:28 (IST)11 Jul 2019
    सुप्रीम कोर्ट ने विधायकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा

    सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कर्नाटक डीजीपी से बागी विधायकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आदेश दिया है। बागी विधायकों को आज बेंगलुरू जाना होगा, जहां उनकी विधानसभा स्पीकर से मुलाकात होगी। 

    11:25 (IST)11 Jul 2019
    कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन

    कांग्रेस ने संसद भवन परिसर में किया प्रदर्शन

    11:22 (IST)11 Jul 2019
    स्पीकर बोले- एक इंच भी पीछे नहीं हटूंगा

    विधानसभा स्पीकर द्वारा बागी विधायकों का इस्तीफा ना स्वीकार करने के मुद्दे पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। लेकिन इस बात से बेखबर स्पीकर रमेश कुमार का कहना है कि वह नियमों और कानून से एक इंच भी पीछे नहीं हटेंगे। रमेश कुमार ने कहा कि 'मुझे समझ नहीं आता कि भाजपा को जल्दी क्या है? ऐसी कई घटनाएं हैं, जब इस तरह के मुद्दों में महीनों लगे हैं। जो भी दबाव है, मैं नियमों और कानून से एक इंच भी पीछे नहीं हटूंगा'

    10:41 (IST)11 Jul 2019
    सुप्रीम कोर्ट आज कर सकता है सुनवाई

    कर्नाटक के बागी विधायकों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई कर सकता है। बता दें कि बागी विधायकों ने आरोप लगाया है कि विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार उनका इस्तीफा नहीं स्वीकार कर रहे हैं और उन्हें बर्खास्त करने की धमकी दे रहे हैं। बागी विधायकों की तरफ से वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी और कांग्रेस की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी अदालत में पेश होंगे।

    09:41 (IST)11 Jul 2019
    संसद की कार्यवाही हुई बाधित

    कर्नाटक संकट के मुद्दे पर बुधवार को भी संसद की कार्यवाही बाधित रही। विपक्षी पार्टियों ने संसद में कर्नाटक मुद्दे पर जमकर हंगामा किया। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने भाजपा पर 'धोखे' की राजनीति करने का आरोप लगाया।

    08:56 (IST)11 Jul 2019
    कर्नाटक कैबिनेट की बैठक आज

    आज यानि कि गुरुवार को कर्नाटक कैबिनेट की बैठक होने जा रही है। वहीं सरकार ने 11-14 जुलाई तक कर्नाटक विधानसभा के बाहर धारा 144 लागू कर दी है। जिसके बाद कोई भी विधानसभा के बाहर धरना-प्रदर्शन नहीं कर पाएगा।