ताज़ा खबर
 

कर्नाटक में CAA के विरोध में कविता लिखने पर कवि, संपादक गिरफ्तार, भाजपा युवा मोर्चा की शिकायत पर हुई कार्रवाई

पुलिस ने बताया कि भाजपा नेता की शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है। जांच जारी है।

Author Edited By रवि रंजन बेंगलुरु | Published on: February 19, 2020 3:09 PM
कवि सिरज बिसरल्ली और संपादक राजाबक्सी एचबी को सीएए विरोध में कविता लिखने और प्रकाशित करने के लिए गिरफ्तार किया गया है।

दर्शन देवैया बी.पी.

कर्नाटक पुलिस ने मंगलवार को उत्तरी कर्नाटक के कोप्पल जिले में एक कवि और एक पत्रकार को नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ एक कविता पाठ करने और सोशल मीडिया पर शेयर करने को लेकर गिरफ्तार किया। सिराज बिसरल्ली ने पिछले महीने अपनी कविता का पाठ किया था, जिसे सोशल मीडिया पर कन्नडनेट डॉट कॉम के संपादक राजाबक्सी एच. वी. ने पोस्ट किया गया था। यह कार्रवाई भाजपा युवा मोर्चा की शिकायत की गई है।

पुलिस के अनुसार, बिसरल्ली ने कन्नड़ जिले के गंगावती शहर में जिला प्रशासन के साथ के सहयोग से कन्नड़ और संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित एंगुंडी उत्सव के दौरान कविता का पाठ किया था। उसी कविता को 14 जनवरी को राजाबक्सी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था।

भाजपा युवा मोर्चा के जिला महासचिव शिवू अराकेरी 24 जनवरी को गंगावती ग्रामीण पुलिस स्टेशन में दोनों के खिलाफ शिकायत करने पुलिस के पास गए। अराकेरी की शिकायत के आधार पर दोनों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 505 के तहत मामला दर्ज किया गया।

मंगलवार को बिसरल्ली और राजाबक्सी ने जिला अदालत के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया और अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की। लेकिन उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई और उन्हें मामले की जांच के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

गंगावती के डीएसपी बीबी चंद्रशेखर ने बताया, “भाजपा नेता की शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है। सिराज और राजाबक्सी ने मंगलवार को अदालत के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। जांच चल रही है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X