ताज़ा खबर
 

कर्नाटकः नियमों को ताक पर रखकर मंत्री ने घर पर लगवाई वैक्सीन, स्वास्थ्य कर्मियों पर गिरी गाज, देखें क्या है मामला

स्वास्थ्यकर्मी जिन्होंने कि कर्नाटक के कृषि मंत्री बीसी पाटिल और उनकी पत्नी को, कोविड टीकाकरण नियमों के खिलाफ जाकर, मंत्री के घर पर जाकर टीका लगाया था, को निलंबित कर दिया गया है।

karnataka, coronavirusमंत्री ने अपने घर पर टीका लगवाया था। (Twitter)।

स्वास्थ्यकर्मी जिन्होंने कि कर्नाटक के कृषि मंत्री बीसी पाटिल और उनकी पत्नी को, कोविड टीकाकरण नियमों के खिलाफ जाकर, मंत्री के घर पर जाकर टीका लगाया था, को निलंबित कर दिया गया है। 26 मार्च को जारी किए गए आदेश में, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण कमिश्नर डॉ केवी त्रिलोक चंद्र ने कहा कि उन्होंने हवेरी जिले के स्वास्थ्यकर्मी डॉ जेडआर मखंदर को निलंबित कर दिया है। यही नहीं डॉक्टर को जांच का सामना भी करना होगा।

आदेश में कहा गया कि बार-बार प्रशिक्षण और निर्देशों के बावजूद, टीका मंत्री को उनके आवास पर दिया गया। स्वास्थ्यकर्मी को निर्देश दिया गया है कि जांच पूरी होने तक बिना अनुमति के कार्य स्थल को न छोड़ें। मालूम हो कि मंत्री बीसी पाटिल ने 2 मार्च को अपने घर पर टीका लगवाया था। कोविड वैक्सीन की खुराक लेने के बाद, मंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर तस्वीर पोस्ट की थी। इसके बाद कोविड टीकाकरण नियमों के उल्लंघन के लिए मंत्री की जमकर आलोचना हुई थी।

कर्नाटक में गुरुवार को कोविड -19 के 4,234 नए मामले दर्ज किए गए। जिसमें बेंगलुरू शहर में कोविड मरीजों का आंकड़ा 2,906 रहा। राज्य में 1,599 लोगों ने कोरोना को मात दी, जिसमें बेंगलुरु शहर के 719 लोग शामिल हैं।

पिछले 24 घंटों में कुल 1,15,372 सैंपल का टेस्ट किया गया। जबकि राज्य भर में पॉजिटिविटी रेट 3.65 प्रतिशत रही। कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 12,585 हो गया, क्योंकि 18 और लोगों ने संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया।

राज्य में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 10,01,238 हो गई है। गुरुवार को बिदर (218), कलबुरगी (144), मैसूरु (109) और तुमकुर (102) से कोरोना के मामले दर्ज किए गए। कुल 39,465 लोगों को टीका लगाया गया।

इस बीच बेंगलुरू में कोरोनो वायरस मामलों में वृद्धि के साथ, कर्नाटक सरकार ने गुरुवार को बेंगलुरू में कक्षा छह से नौ के लिए नियमित कक्षाओं को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने की घोषणा की।

राज्य के प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने एक बयान में कहा, “बढ़ते COVID मामलों को ध्यान में रखते हुए, कक्षा छह से नौ तक की कक्षाओं को अगले आदेश तक तत्काल प्रभाव से रोक दिया गया है।” उन्होंने कहा कि छात्रों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है।

Next Stories
1 कांग्रेस प्रवक्ता ने मोदी को कहा कार्टून तो एंकर बोले- आप जनता को कार्टून नहीं बोलेंगे, देखिए फिर क्या हुआ
2 अलवर में राकेश टिकैत के काफिले पर हमला, भीड़ ने तोड़े कार के शीशे, पुलिस सुरक्षा में बानसूर पहुंचे किसान नेता
3 पति के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद प्रियंका वाड्रा क्वारंटीन, स्वास्थ्य मंत्रालय बोला- 81.25 मामले केवल 8 राज्यों से, पुणे ने उठाए सख्त कदम
ये पढ़ा क्या?
X