ताज़ा खबर
 

कर्नाटक चुनाव: सीएम सिद्धारमैया ने पीएम मोदी को भेजा कानूनी नोटिस

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने सोमवार को छह पन्नों का लीगल नोटिस भारतीय जनता पार्टी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कर्नाटक में मुख्यमंत्री पद के भाजपा उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा को भिजवाया है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया रविवार को बेंगलुरु में प्रेस वार्ता करते हुए। फाइल फोटो – पीटीआई

कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए राजनीतिक पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। प्रचार के नए—नए हथकंडे भी अपनाए जा रहे हैं। लेकिन इस पूरी दास्तान में नया मोड़ आ गया है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने सोमवार को छह पन्नों का लीगल नोटिस भारतीय जनता पार्टी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कर्नाटक में मुख्यमंत्री पद के भाजपा उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा को भिजवाया है। अपने कानूनी नोटिस में सीएम सिद्धारमैया ने इन सभी को सिविल और क्रिमिनल मानहानि का नोटिस भेजा है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सिद्धारमैया ये चाहते हैं कि अपनी जनसभाओं के दौरान पीएम मोदी, अमित शाह, भाजपा नेताओं और येदियुरप्पा ने उन पर और उनकी सरकार पर इन सभी ने जनसभाओं में जो आरोप लगाए हैं, उसके लिए ये सभी उनसे माफी मांगें। इस कानूनी नोटिस में भाजपा के उस चुनावी कैंपेन पर भी आपत्ति जताई गई है, जिसमें सिद्धारमैया सरकार पर निशाना साधा गया था।

अपने कानूनी नोटिस में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ये धमकी दी है कि अगर वह लिखित माफी नहीं मांगते हैं तो कांग्रेस उन पर सौ करोड़ रुपये का मानहानि का मुकदमा ठोंक देगी। बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए की गई जनसभाओं में पीएम मोदी और भाजपा नेताओं ने जमकर सिद्धारमैया की सरकार पर निशाना साधा था। पीएम मोदी ने जनसभाओं में सिद्धारमैया और उनकी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्हें ‘सीधा रुपैया सरकार’ और ’10 फीसदी सरकार’ तक का खिताब दिया था।

इससे पहले सिद्धारमैया ने बीजेपी और पीएम मोदी पर करारा जवाबी हमला किया था। सिद्धारमैया ने अपने ऊपर चिटफंड कंपनियों से मिलीभगत, लाभ उठाने और निजी निवेशकों को बढ़ावा देने वाली पोंजी कंपनी को संरक्षण देने के आरोपों पर जवाब दिया था। सिद्धारमैया ने ट्वीट किया था कि अगर भाजपा मेरे ऊपर किसी फोटो को आधार बनाकर आरोप लगाना चाहती है तो उसे पीएम मोदी के उस फोटो पर भी जवाब देना चाहिए, जो उन्होंने दावोस में नीरव मोदी के साथ खिंचवाए थे। बता दें कि इससे पहले भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने सिद्धारमैया के फोटो विजय ईश्वरन के साथ जारी किए थे। संबित पात्रा का आरोप था कि इन दोनों की मुलाकात सितंबर 2013 में हुई थी। बता दें कि ईश्वरन फिलहाल फरार है और पुलिस उसे वित्तीय फ्रॉड के आरोप में तलाश रही है।

वहीं रविवार (7 मई) को पीएम नरेन्द्र मोदी ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा था। पीएम मोदी ने इशारों में ही उनको कुत्तों से देशभक्ति सीखने की सीख दे डाली थी। दरअसल पीएम उत्तरी कर्नाटक में भाषण दे रहे थे, जहां के मुधोल इलाके के कुत्तों की नस्ल को सेना ने कमिशन दिया है। पीएम मोदी दरअसल कांग्रेस अध्यक्ष को उस वायरल वीडियो पर घेरने की कोशिश कर रहे थे, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कार्यक्रम समाप्त होने से पहले राष्ट्रगान को जल्दी खत्म करने के लिए कहते दिखाई दे रहे थे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App