ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वालों के लिए देखते ही गोली मारने वाले कानून की जरूरत, बोले कर्नाटक के मंत्री

मंत्री ने कहा कि मेरी राय में भारत में देश विरोधी नारे लगाने वाले, भारत के बारे में गलत बोलने वाले या पाकिस्तान के समर्थन में बोलने वालों के लिए शूट एट साइट कानून लाने की जरूरत है।

कर्नाटक के कृषि मंत्री बीसी पाटिल। (Photo: ANI)

कर्नाटक के कृषि मंत्री बीसी पाटिल ने रविवार को देश में भारत विरोधी या पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों से निपटने के लिए एक कड़ा कानून लाने की मांग की। एएनआई के अनुसार, राज्य के चित्रदुर्गा में उन्होंने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, “मेरी राय में भारत में देश विरोधी नारे लगाने वाले, भारत के बारे में गलत बोलने वाले या पाकिस्तान के समर्थन में बोलने वालों के लिए शूट एट साइट कानून लाने की जरूरत है।” उन्होंने कहा, “भारत का अन्न खाते हैं, भारत का पानी पीते हैं लेकिन यदि पाकिस्तान जिंदाबाद कहते हैं, तो यहां पर क्यों हैं? चीन में लोग अपने देश के खिलाफ बोलने से पहले डरते हैं। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करता हूं कि वे गद्दारों से निपटने के लिए एक सख्त कानून बनाएं।”

इससे पहले दक्षिणपंथी संगठन श्री राम सेना के एक कार्यकर्ता ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ एक रैली में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली अमूल्या लियोना की हत्या करने के लिए 10 लाख रूपये के इनाम की घोषणा की है। एक वीडियो फुटेज में श्री राम सेना का कार्यकर्ता संजीव मारदी सरकार से अमूल्या को नहीं रिहा करने का आह्वान करता नजर आ रहा है। वीडियो में साथ ही वह यह भी कह रहा है कि वरना वह उसे जान से मार देगा।

अमूल्या लियोना के खिलाफ शनिवार को बेल्लारी में श्रीराम सेना द्वारा आयोजित एक विरोध रैली में मारदी कह रहा है, ‘‘राज्य और केंद्र सरकार को किसी भी स्थिति में युवती को नहीं रिहा करना चाहिए। अगर उसे छोड़ दिया गया तो हम उसे जान से मार देंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उसकी हत्या करने वाले को श्री राम सेना की तरफ से हम 10 लाख का इनाम देंगे।’’ बेल्लारी के पुलिस अधीक्षक सी के बाबा ने कहा कि उन्होंने ऐसा कोई वीडियो नहीं देखा और ना ही ऐसी कोई घोषणा सुनी है।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे इसके बारे में पता लगाने दीजिए। उसने जो कहा है मैंने वह नहीं देखा। मैं देखूंगा….’’ नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ गुरूवार शाम को यहां एक रैली में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की उपस्थिति में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली युवती पर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया है और उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। ओवैसी ने उसकी हरकत की निंदा की। (भाषा इनपुट के साथ)

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X