ताज़ा खबर
 

CJI महाभियोग पर कपिल सिब्बल का एलान- आज से दीपक मिश्रा की कोर्ट में नहीं जाऊंगा

वरिष्ठ अधिवक्ता और कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने रविवार(22 अप्रैल,2018) को कहा कि वह मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की कोर्ट में नहीं जाएंगे। दीपक मिश्रा के खिलाफ उन्होंने और 63 अन्य सांसदों ने महाभियोग लाने की पहल की है।

Author नई दिल्ली | April 23, 2018 2:44 PM
कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल (Express File Photo)

वरिष्ठ अधिवक्ता और कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने रविवार(22 अप्रैल,2018) को कहा कि वह मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की कोर्ट में नहीं जाएंगे। दीपक मिश्रा के  खिलाफ उन्होंने और 63 अन्य सांसदों ने महाभियोग लाने की पहल की है।

सुप्रीम कोर्ट में वकालत करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा- मैं कल(23 अप्रैल) से चीफ जस्टिस की कोर्ट में नहीं जाऊंगा, जब तक वह रिटायर नहीं हो जाते, यही मेरे प्रफेशन के उच्च आदर्शों के अनुरूप है।

चिदंबरम के बेटे कीर्ति चिदंबरम ही नहीं बल्कि अयोध्या मुद्दे और अमित शाह के बेटे जय शाह की मानहानि के केस में न्यूज पोर्टल की ओर से कपिल सिब्बल मुकदमा लड़ रहे हैं।यह सब मुकदमे मुख्य न्यायाधीश की कोर्ट में चल रहे हैं।

यह पूछे जाने पर कि अगर राज्यसभा चेयरमैन महाभियोग का प्रस्ताव खारिज करते हैं तब क्या एक्शन होगा, इस पर सिब्बल ने कहा कि नोटिस की मेरिट का फैसला करने के लिए चेयरमैन के पास न्यायिक शक्तियां नहीं होती बल्कि न्यायधीशों के जरिए गठित समिति के पास कार्रवाई का अधिकार होगा।

कपिल सिब्बल ने कहा-उनके(नायडू) के पास इस बाबत अधिकार नहीं है, वह नोटिस की मेरिट पर फैसला नहीं ले सकते, वह सिर्फ महाभियोग की प्रक्रिया पर निर्णय ले सकते हैं। सिब्बल ने कहा कि राज्यसभा के चेयरमैन के पास नोटिस को ठुकराने का कोई आधार नहीं है।

यह पूछे जाने पर कि उनकी पार्टी के पी चिदंबरम और अन्य विपक्षी दलों के नेताओं ने महाभियोग की नोटिस पर हस्ताक्षर क्यों नहीं सौंपे, इसपर सिब्बल ने कहा-हमने चिदंबरम से हस्ताक्षर करने के बारे में नहीं पूछा, उनके कई मामले लंबित हैं, उनका मैं वकील हूं, वास्तव में यह बड़ा नुकसान है, क्योंकि मैं उस अदालत में और नहीं दिख सकता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App