ताज़ा खबर
 

27 जून, 2017 को बोले थे योगी आदित्‍य नाथ- यूपी को माफिया, गुंडों से मुक्त करेंगे; आज कानपुर में गुंडों से मुठभेड़ में आठ पुलिसवाले शहीद

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह यूपी को गुंडा और माफिया मुक्त बनाने का वादा कर रहे हैं। साल 2017 के जून महीने का एक वीडियो है जिसमें सीएम योगी कह रहे हैं कि प्रदेश को गुंडा और माफिया मुक्त बनाने के लिए संकल्पित हैं।

Cm Yogi, Uttar Pradesh,उत्तर प्रदेश की सत्ता में आने के बाद सीएम योगी ने कहा था कि वह उत्तर प्रदेश को गुंडों से मुक्त कर देंगे। (फाइल फोटो-PTI)

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में चौबेपुर बिकरू गांव में हिस्ट्रीशीटर से पुलिस मुठभेड़ में आठ पुलिस के जवान शहीद और कई पुलिस कर्मी घायल हो गए। घटना के सामने आने के बाद चर्चा है कि प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह यूपी को गुंडा और माफिया मुक्त बनाने का वादा कर रहे हैं। साल 2017  के जून महीने का एक वीडियो है जिसमें सीएम योगी कह रहे हैं कि प्रदेश को गुंडा और माफिया मुक्त बनाने के लिए संकल्पित हैं।

यह वीडियो योगी सरकार के 100 दिन पूरे होने के कार्यक्रम के दौरान की है। सीएम योगी कहते हैं, राज्य सरकार के इन 100 दिनों की अवधि की उपलब्धियों पर हमें संतोष का अनुभव हो रहा है। राज्य सरकार ने विरासत में मिली एक लाख इक्कीस हजार किलोमीटर से अधिक गड्ढा युक्त सड़कों को गड्ढा  मुक्त करने व उत्तर प्रदेश के सभी जिलों को समानरूप से बिजली आपूर्ति करने के लिए प्रभावी कार्रवाई की है। हमें प्रदेश को माफिया मुक्त, गुंडा मुक्त व भ्रष्टाचार मुक्त कराने के लिए प्रतिसंकल्पित हैं।

इस घटना के सामने आने के बाद सीएम योगी विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा है,  बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी जिसमें यूपी पुलिस के सीओ, एसओ सहित 8 जवान शहीद हो गए। यूपी पुलिस के इन शहीदों के परिजनों के साथ मेरी शोक संवेदनाएं।यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं। आमजन व पुलिस तक सुरक्षित नहीं है।कानून व्यवस्था का जिम्मा खुद सीएम के पास है। इतनी भयावह घटना के बाद उन्हें सख़्त कार्यवाही करनी चाहिए। कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है, उप्र की भाजपा सरकार अपनी पोलपट्टी खुलने के डर से आनन-फ़ानन में मुख्य अपराधी को न पकड़कर छोटी-मोटी मुठभेड़ दिखाने का नाटक करवा रही है। इससे पुलिसकर्मियों का मनोबल और गिरेगा तथा पुलिस का आक्रोश भी बढ़ेगा। सरकार तुरंत मुआवज़ा घोषित करे व परिजनों को हर संभव संरक्षण दे। निंदनीय!

बता दें कि कानपुर के जिस हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं, उस पर यूपी में राजनाथ सिंह की सरकार में थाने में घुसकर मंत्री की हत्या करने का आरोप है। विकास दुबे ने साल 2001 में राजनाथ सिंह की सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री संतोष शुक्ला की थाने में घुसकर हत्या कर दी थी। विकास दुबे के खिलाफ 60 क्रिमिनल केस दर्ज हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शिवसेना का केंद्र पर निशाना, कहा- नोटबंदी और आर्टिकल 370 हटने से भी नहीं बदले कश्मीर के हालात
2 ICMR का नोट- जल्दी कीजिए, 15 अगस्त तक लाना है कोरोना का टीका; हैरान एक्स्पर्ट बोले- ये कैसे हो सकता है!
3 महाराष्ट्र सरकार के मंत्री बोले- पतंजलि भ्रामक दावा कर राज्य के लोगों को गुमराह करेगी तो उस पर करेंगे कार्रवाई
ये पढ़ा क्या?
X