ताज़ा खबर
 

कन्‍हैया कुमार ने बताया ‘ह‍िंदू और संघी होने का फर्क’, लोगों ने ऐसे क‍िया ट्रोल

कन्हैया कुमार ने राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ पर निशाना साधते हुए हिंदू और संघी होने में फर्क बता रहे थे। उनके इसी ट्वीट को लेकर ट्रोलर्स ने उनकी क्लास लगा दी।

Kanhaiya Kumar, BJP, Trolledकन्हैया कुमार को ट्विटर पर ट्रोलर्स ने ट्रोल किया है।(फोटो-फाइल)

सीपीआई नेता और जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने ट्विटर पर एक ट्वीट किया है जिसे लेकर ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं। दरअसल, कन्हैया कुमार ने राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ पर निशाना साधते हुए हिंदू और संघी होने में फर्क बता रहे थे। उनके इसी ट्वीट को लेकर ट्रोलर्स ने उनकी क्लास लगा दी।

कन्हैया कुमार ने ट्वीट किया, “हिन्दू होने और संघी होने में क्या फ़र्क़ है?हिन्दुओं के लिए धर्म आस्था है और संघियों के लिए धंधा।”  उनके इस ट्वीट पर लोगों ने उनपर निशाना साधा है। उनके इस ट्वीट को 50 हजार से ज्यादा लोगों ने लाइक किया है। वहीं हजारों लोगों ने इसे रिट्वीट किया है। हालांकि उनके इस ट्वीट पर कई लोगों ने नाराजगी भी जाहिर की है।

एक यूजर ने लिखा है, हिन्दू होने और वामपंथि होने में क्या फ़र्क़ है? हिन्दुओं के लिए धर्म आस्था है और वामपंथियों के लिए दलाली धंधा हैं। एक  अन्य यूजर ने लिखा है,फर्जी वामपंथी और स्वयं सेवक होने में क्या फर्क है? फर्जी वामपंथी भोग विलास और मुफ्तखोर होता है,देश को तोड़ने की बात करेगा! धर्म पर टिप्पणी करेगा,झूठे प्रोपेगैंडा फैलाएगा! हमेशा नशे में डूबा रहता है और खुद को क्रांतिकारी समझता है!संघ हमेशा निस्वार्थ सेवा और राष्ट्र प्रेम सिखाएगा!

बता दें कि कन्हैया कुमार एनआरसी और सीएए के विरोध में राज्यव्यापी यात्रा निकाल रहे हैं और जो 29 फरवरी  पटना में सपन्न होंगी। इस दौरान कटिहार में कन्हैया कुमार के काफिले पर जूते चप्पल फेंके गए।  इससे पहले सुपौल में भी कन्हैया कुमार पर हमला हुआ था इस दौरान कन्हैया कुमार और गांडी चला रहा उनका चालक घायल हो गया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पौने दो घंटे के संबोधन में पीएम मोदी ने 23 बार लिया पंडित नेहरू का नाम, लोग पूछ रहे- बजट सेशन में इकोनॉमी पर कितना बोले?
2 जानिए क्या है बोडोलैंड समझौता? जिसका जश्न मनाने असम पहुंचे नरेंद्र मोदी
3 जब पहली बार सीएम पद की शपथ ले रहे थे हेमंत सोरेन तो ताबड़तोड़ फोटो खींच रही थीं कल्पना, शादी की सालगिरह पर यूं किया याद
यह पढ़ा क्या?
X