ताज़ा खबर
 

हमले के आरोपी ने कहा-सस्‍ती लोकप्रियता के लिए कन्‍हैया कुमार ने कही गला दबाने की बात

महाराष्ट्र के गृह राज्य मंत्री राम शिंदे ने कहा कि कन्हैया राज्य की भाजपा के नेतृत्‍व वाली सरकार की छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं।

कन्हैया शनिवार को मुंबई में थे और वाम संगठनों की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधा था।

जेएनयू छात्रसंघ अध्‍यक्ष कन्‍हैया कुमार पर फ्लाइट में हमला करने और गला घोंटने की कोशिश के मामले में हिरासत में लिए गए शख्‍स ने सभी आरोपों को खारिज किया है। कन्‍हैया के आरोपों के बाद 33 साल के टीसीएस कर्मचारी मानस ज्‍योति देका (33) को मुंबई में हिरासत में लिया गया था। देका ने कहा, ”मेरा हाथ बस उनकी गर्दन पर पड़ गया था क्‍योंकि पैर में दर्द की वजह से मैं खुद को संतुलित करने की कोशिश कर रहा था। मैंने उनकी तस्‍वीरें देखी हैं, लेकिन निजी तौर पर नहीं जानता। वे ऐसा सस्‍ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए कर रहे हैं।”

मुंबई पुलिस ने भी कन्‍हैया के आरोपों को खारिज किया है। ज्‍वाइंट कमिश्‍नर ऑफ पुलिस ने कहा, ”कन्‍हैया के दोस्‍त ने जो भी आरोप लगाए हैं, वे हमारी जांच में गलत पाए गए हैं।” भारती ने यह भी कहा कि एक सीनियर इंस्‍पेक्‍टर के बार बार कहने के बावजूद कन्‍हैया ने पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई।

HOT DEALS
  • Moto G6 Deep Indigo (64 GB)
    ₹ 15783 MRP ₹ 19999 -21%
    ₹1500 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹1485 Cashback

घटना के बाद महाराष्ट्र के गृह राज्य मंत्री राम शिंदे ने कहा कि कन्हैया राज्य की भाजपा के नेतृत्‍व वाली सरकार की छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इस मामले की विस्तृत जांच कराने का आदेश दिया है। शिंदे ने बताया, ‘‘विमान में बैठने तक उनको पूरी सुरक्षा प्रदान की गई। विमान के भीतर किसी को सुरक्षा नहीं दी जा सकती। मुझे भी विमान के अंदर सुरक्षा नहीं मिलती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कन्हैया कुमार तीन अन्य लोगों के साथ यात्रा कर रहे थे। उनको खिड़की वाली सीट दी गई थी और ऐसे में वहां से गुजरने के दौरान बीच वाली सीट पर बैठे व्यक्ति से उनका झगड़ा हो गया। दूसरा व्यक्ति यह भी नहीं जानता था कि यह कन्हैया कुमार हैं और वह भी आरोप लगा रहा है कि छात्र नेता ने उसे पीटा।’’

शिंदे ने कहा कि उन्होंने संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून-व्यवस्था) देवेन भारती से कहा है कि वह मामले की विस्तृत जांच करें और तथ्य सामने लाएं। शिंदे ने कहा, ‘‘कन्हैया मीडिया का ध्यान खींचने के लिए नाटक कर रहे हैं। वह पूरी सुरक्षा दिए जाने के बावजूद राज्य की भाजपा नीत सरकार को बदनाम करने का प्रयास कर रहे हैं। एक निजी झगड़े को इस तरह से पेश किया जा रहा है कि लोग उनको मारने के लिए वहां थे।’’
बता दें कि जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने रविवार को आरोप लगाया था कि मुंबई से पुणे जाने वाले एक विमान में एक सहयात्री ने उनका ‘गला दबाने’ की कोशिश की। कन्हैया ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘एक बार फिर… इस बार विमान के अंदर एक व्यक्ति ने मेरा गला दबाने की कोशिश की।’’

READ ALSO: विमान में JNU अध्‍यक्ष कन्हैया कुमार का गला दबाने को कोशिश, एक हिरासत में

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App