ताज़ा खबर
 

अरुणाचल: बीजेपी टिकट पर जीतीं दिवंगत सीएम कलिखो पुल की तीसरी पत्‍नी दसांगलु, निर्दलीय ने दी कड़ी टक्‍कर

अरूणाचल प्रदेश की हायुलियांग विधानसभा उपचुनाव में नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) की उम्मीदवार भाजपा की दसांगलु पुल ने अपनी एकमात्र प्रतिद्वंद्वी निर्दलीय उम्मीदवार योम्पी क्री को 942 वोटों से परास्त किया।
Author November 22, 2016 20:31 pm
दिवंगत सीएम कलिखो पुल

अरुणाचल प्रदेश की हायुलियांग विधानसभा उपचुनाव में नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) की उम्मीदवार भाजपा की दसांगलु पुल ने अपनी एकमात्र प्रतिद्वंद्वी निर्दलीय उम्मीदवार योम्पी क्री को 942 वोटों से परास्त किया। भाजपा टिकट पर उपचुनाव लड़ रही पुल को 19 नवम्बर को हुए उपचुनाव में 5326 वोट मिले जबकि क्री को 4384 वोट हासिल हुए। इस तरीके से पुल ने 942 वोटों से जीत हासिल कर ली। दसांगलु पुल अरूणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कलिखो पुल की तीन पत्नियों में सबसे छोटी हैं। कलिखो पुल के कथित तौर पर आत्महत्या करने के बाद चुनाव कराए गए।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कलिंग तायेंग ने बताया कि 108 मतदाताओं ने नोटा का विकल्प चुनाव। उन्होंने कहा कि चुनाव में अनुमानित 72 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले। पीपीए नीत नेडा सरकार में गठबंधन सहयोगी भाजपा की संख्या बढ़कर 12 हो गई है। 60 सदस्यीय विधानसभा में पीपुल्स पार्टी ऑफ अरूणाचल (पीपीए) के 43 विधायक, कांग्रेस के तीन और दो विधायक निर्दलीय हैं।

कलिखो पुल कांग्रेस से बगावत कर भाजपा के समर्थन से कुछ समय के‍ लिए अरुणाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री बने थे। सुसाइड से कुछ दिन पहले ही नाटकीय घटनाक्रम के तहत मुख्‍यमंत्री पद से हटाए गए थे। 47 साल के कलिखो पुल के नाम का मतलब है ‘बेहतर कल’। इस नाम को उन्‍होंने जिंदगी में सार्थक भी किया था। वह बढ़ई से चौकीदार और फिर राज्‍य के मुख्‍यमंत्री बने थे। कलिखो पुल का अंजाव जिले में हवाई के वल्‍ला गांव में हुआ था। वह केवल 13 महीने के थे, जब उनकी मां कोरानलु दुनिया छोड़ गईं। इसके पांच साल बाद पिता का भी साया उठ गया। चाची ने पालन-पोषण किया, लेकिन जिंदगी दुश्‍वार हो गई। स्‍कूल जाने के बजाय उन्‍हें जंगल जाना पड़ता था। वहां से लकड़‍ियां चुन कर लाते थे।

इस वक्त की ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

https://youtu.be/CCCZJxVDG2Q

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.