ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कांग्रेस की महिला नेता को मंच से हटाया, भड़कीं AAP विधायक

28 जुलाई को उज्जैन में कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस थी। इस कांफ्रेंस में सिंधिया के साथ मंच पर राजवर्धनसिंह दत्तीगांव, शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेश सोनी और पूर्व विधायक राजेंद्र भारती बैठे थे। कॉन्फ्रेंस शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता नूरी खान भी मंच पर जाकर बाकी नेताओं के साथ बैठ गईं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया (फोटो सोर्स- पीटीआई)

आम आदमी पार्टी (आप) विधायक अलका लांबा ने गुना से कांग्रेस के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जमकर हमला बोला है। लांबा ने सिंधिया द्वारा महिला कांग्रेस नेता नूरी खान को मंच से नीचे जाकर बैठने का आदेश देने को लेकर निशाना साधा है। आप विधायक ने ट्वीट कर कहा है कि ऐसा पहली बार नहीं है कि सिंधिया जी ने महिलाओं का अपमान किया हो, इससे पहले भी वह अपनी राजसी झाड़ चुके हैं। लांबा ने लिखा, ‘सिंधिया जी ऐसा पहली बार नहीं कर रहे हैं, पहले भी महिलाओं का अपमान कुछ यूं ही कर अपनी राजसी झाड़ चुके हैं। नूरी खान को मैं कांग्रेस के समय से जानती हूं, बेहद ईमानदार, मेहनती कार्यकर्ता हैं वो, उसने अपने दम पर अपनी जगह बनाई है। दुख हुआ मीडिया के सामने यह अपमान देख कर राहुल गांधी।’ इस ट्वीट के साथ ही लांबा ने एक अखबार की उस खबर को भी पोस्ट किया है जिसमें यह बताया गया है कि सिंधिया ने प्रेस वार्ता के दौरान नूरी खान को स्टेज से नीचे जाकर बैठने का आदेश दिया था।

दरअसल, 28 जुलाई को उज्जैन में कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस थी। इस कांफ्रेंस में सिंधिया के साथ मंच पर राजवर्धनसिंह दत्तीगांव, शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेश सोनी और पूर्व विधायक राजेंद्र भारती बैठे थे। कॉन्फ्रेंस शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता नूरी खान भी मंच पर जाकर बाकी नेताओं के साथ बैठ गईं। यह देखकर सिंधिया ने उनसे कहा कि वह मंच से नीचे जाकर बैठे। सिंधिया की बात सुनकर नूरी खान चुपचाप मंच से उतरीं और नीचे लगी कुर्सियों पर बैठ गईं।

कौन हैं नूरी खान?
मध्य प्रदेश में नूरी खान कांग्रेस का चर्चित चेहरा हैं। वह मध्य प्रदेश कांग्रेस की प्रवक्ता हैं। मंदसौर में 7 साल की बच्ची के साथ हुई रेप की घटना पर नूरी खान ने वीडियो जारी कर बीजेपी सरकार और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि इस देश में बेटियों की इज्जत को धर्म के नाम पर बांटा जा रहा है। नूरी खान ने कहा था कि अब ऐसा हो गया है कि अगर किसी हिंदू बेटी के साथ गलत होगा तो ही बीजेपी वाले आवाज उठाएंगे, लेकिन अगर किसी मुस्लिम बेटी के साथ गलत होता है तो केवल मुस्लिम ही आवाज उठाएंगे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट