ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार को कश्मीरियों के दिल जीतना चाहिए: ज्योतिरादित्य सिंधिया

सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों की बीच संघर्ष में तकरीबन 45 लोगों की मौत हो गई है और 3,400 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए हैं।

Author नई दिल्ली | July 24, 2016 2:51 PM
kashmir violence, congress, bjp, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि पीडीपी और भाजपा काअवसरवादी गठबंधन जम्मू कश्मीर में काम नहीं कर रहा है। (file photo)

वरिष्ठ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि पीडीपी और भाजपा काअवसरवादी गठबंधन जम्मू कश्मीर में काम नहीं कर रहा है और मोदी सरकार को कश्मीरी लोगों के दिल जीतने की कोशिश करनी चाहिए और यह आर्थिक पेकैज से नहीं हो सकता है।

सिंधिया ने कहा, ह्यह्य जम्मू कश्मीर को आर्थिक पेकैजों से नहीं जीता जा सकता है। उनके दिलों को जीतने की जरूरत है।
सुरक्षा बलों के हाथों आठ जुलाई को हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से घाटी के कई हिस्सों, खासतौर पर दक्षिण कश्मीर में एक पखवाड़े से हिंसक संघर्ष हो रहे हैं। सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों की बीच संघर्ष में तकरीबन 45 लोगों की मौत हो गई है और 3,400 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए हैं।

सिंधिया ने पीटीआई-भाषा से कहा, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी :पीडीपी: और भारतीय जनता पार्टी :भाजपा: के बीच का अवसरवादी गठबंधन वहां काम नहीं कर रहा है। केंद्र भी जम्मू कश्मीर के लोगों के लिए पर्याप्त नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में आर्थिक विकास और युवकों के लिए रोजगार के मौकों का अभाव है।

कांग्रेस नेता ने कहा, केंन्द्र को बहुत कुछ करने की जरूरत है। कश्मीर के लोगों से संवाद होना चाहिए। सिंधिया न कहा कि जम्मू-कश्मीर में अमन और शांति, वृद्धि और विकास का माहौल बनाने की जरूरत है। कांग्रेस नेता ने कहा, हम कश्मीर के हित में सरकार के साथ मिल कर काम करने के इच्छुक है। उन्होंने कहा कि स्थिति का आकलन करने और लोगों से बातचीत करने के लिए एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल को राज्य का दौरा करने की जरूरत है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शराब पी कर वाहन चलाने वाला आदमी फिदायीन बम की तरह: अदालत
2 संयुक्त राष्ट्र में है तत्काल सुधार की जरूरत: शशि थरूर
3 सभी चिंताओं को दूर होने के बाद ही करेंगे जीएसटी का समर्थन: सिंधिया
यह पढ़ा क्या?
X