ताज़ा खबर
 

NEW TRAFFIC RULES: महज 100 रुपए खर्च कर माफ हो सकता है जुर्माना, जान‍िए शर्तें

एक रिपोर्ट के मुताबिक इतने भारी जुर्माने को महज 100 रुपए का फाइन भरकर खत्म करवाया जा सकता है। मगर चालान को 100 रुपए में तब्दील कराने के लिए कुछ शर्ते भी तय की गई हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: September 11, 2019 4:23 PM
सांकेतिक तस्वीर (फोटो सोर्स- इन्डियन एक्सप्रेस)

मोटर वाहन (संशोधित) अधिनियम 2019 के नए नियम लागू होने के बाद ट्रैफिक पुलिस सख्ती से ऐसे लोगों के भारी चालान काट रही है जो यायातात नियमों का पालन नहीं करते। हाल में एक स्कूटी चालक का 23 हजार रुपए का चालान काट दिया गया क्योंकि उसके पास वाहन से जुड़ा कोई कागज नहीं था। इसी तरह एक ट्रक ड्राइवर का 80 हजार रुपए का चालान काट दिया। सड़क यातायात के भारी जुर्माने के चलते नागरिकों के मन में निराशा की भावना पैदा हुई है। हालांकि लोगों को संशोधित अधिनियम के बारे में अधिक जानकारी नहीं है इसलिए उन्हें खासी परेशानी हो रही है। मगर इसमें घबराने की बात नहीं है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक इतने भारी जुर्माने को महज 100 रुपए का फाइन भरकर खत्म करवाया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि चालान को 100 रुपए में तब्दील कराने के लिए कुछ शर्ते भी तय की गई हैं। मान लीजिए घटनास्थल पर आपके पास जरुरी कागजात जैसे इंश्योरेंस पेपर, ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी या अन्य दस्तावेज नहीं हैं और आपका भारी चालान कट जाता है। ऐसे में आपके पास 15 दिन का समय होगा कि करीबी ब्रांच में जाएं और दस्तावेज दिखा दें। इसपर आपके सारे चालान रद्द कर दिए जाएंगे और इसके बदले में आपको सिर्फ 100 रुपए का जुर्माना भरना होगा।

इसमें एक पेच यह भी जान लें कि आपके दस्तावेज चालान जारी होने से पहले की तारीख पर जारी किए गए होने चाहिए वरना जुर्माना माफ नहीं होगा। उदाहरण के लिए मान लीजिए आपके वाहन का इंश्योरेंस या बीमा नहीं है और आपका चालान कट गया। इसपर आपने 15 दिन से पहले अपने कागजात पूरे किए और ब्रांच में दिखाए। इससे आपका चालान माफ नहीं होगा क्योंकि दस्तावेज चालान जारी होने से पहले के होना जरुरी है।

इसी ऐसे समझें…कि 15 दिन वाले नियम उन लोगों के लिए है, सड़क पर चालान कटते समय उनके पास संबंधित दस्तावेज नहीं थे, मगर दस्तावेज उनके घर पर थे। ऐसे में एक बार ऑथोरिटी को यह दस्तावेज दिखाते हैं तो आपके चालान 100 रुपए के बदले में माफ कर दिए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 किताब में बीजेपी सांसद का दावा: टीम मोदी में अयोग्यों, चापलूसों की भरमार, मंत्री और साथी भी नहीं देते सही सलाह
2 Kerala Akshaya Lottery Results Today 11.9.19: परिणाम जारी होंगे या नहीं? केरल लॉटरी विभाग ने लिया ये फैसला
3 तबरेज लिंचिंग केस: आरोपियों पर लगा मर्डर का केस हटाने पर सवाल, मोदी सरकार के मंत्री बोले- मुझे पता नहीं