ताज़ा खबर
 

पत्रकार ने अमित शाह से पूछा- कर्नाटक चुनाव होते ही क्यों बढ़ने लगे तेल के दाम? बीजेपी अध्यक्ष ने ये दिया जवाब

पत्रकार का यह सवाल सुनते ही अमित शाह ने जो जवाब दिया वो अब सुर्खियों में है। इस सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा दिया कि मैं आपका (मीडिया) एजेंडा जानता हूं, मैं इसपर भी जवाब दूंगा, लेकिन आज केवल मैं कर्नाटक के विषय़ मैं बात कर रहा हूं।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह। (फोटोः एएनआई)

कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर चले सियासी उठापटक के बाद सोमवार (21 मई) को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान एक पत्रकार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह से पेट्रोल-डीजल को लेकर जब सवाल पूछा तो अमित शाह इस सवाल को टाल गए। दरअसल एनडीटीवी के एक पत्रकार ने इस संवाददाता सम्मेलन के दौरान अमित शाह से पूछ दिया कि कर्नाटक चुनाव के समय पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर थे लेकिन अब उसमे तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है ऐसा क्यों?

पत्रकार का यह सवाल सुनते ही अमित शाह ने जो जवाब दिया वो अब सुर्खियों में है। इस सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा दिया कि मैं आपका (मीडिया) एजेंडा जानता हूं, मैं इसपर भी जवाब दूंगा, लेकिन आज केवल मैं कर्नाटक के विषय़ मैं बात कर रहा हूं। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों ने कर्नाटक चुनाव, गोवा, मणिपुर समेत कई मुद्दों पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से सवाल पूछे। अमित शाह ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला था। अमित शाह ने कहा था कि कर्नाटक चुनाव परिणाम आने के बाद आखिर कांग्रेस किस बात का जश्न मना रही है? क्या 122 सीट से 78 सीट पर सिमट गई उसका जश्न मना रही है? या फिर राज्य मंत्रिमंडल के आधे से ज्यादा मंत्री हार गए इस बात का?

बहरहाल आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों मे उछाल का असर देश में भी देखने को मिला है। मंगलवार यानी (22 मई) को लगातार नौंवे दिन पेट्रोल-डीजल की कीमतों में उछाल आया है। राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 76.87 रुपये प्रति लीटर है। पिछले एक हफ्ते के दौरान देश में पेट्रोल की कीमतों में 2.5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। घरेलू बाजार में पेट्रोल के दाम पिछले पांच साल के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच चुके हैं। हालांकि यह भी सच है कि दुनिया के कई देशों में पेट्रोल के दाम भारत से ज्यादा बढ़े हैं। फिनलैंड, मॉरीशस, ग्रेनाडा में तेल के दाम ज्यादा बढ़े हैं। वहीं श्रीलंका में पेट्रोलियम उत्पादों में 15.6 फीसदी की बढ़ोतरी पिछले 90 दिनों के दौरान हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App