scorecardresearch

जो बाइडेन बोले- पूरी पृथ्‍वी पर भारत-अमेरिका के बीच रिश्‍तों को सबसे घनिष्‍ट बनाने के लिए प्रतिबद्ध, पीएम मोदी की तारीफ में कहीं ये बातें

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि दोनों देश वर्ल्ड आर्डर पर रूस-यूक्रेन युद्ध के नकारात्मक प्रभावों को कम करने के तरीके पर बारीकी से विचार-विमर्श करना जारी रखेंगे।

narendra modi| joe biden| india america|
पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (फोटो सोर्स: @narendraModi)

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने मंगलवार को कहा कि वह अमेरिका-भारत साझेदारी को ‘पृथ्वी पर हमारे सबसे करीब’ बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी ओर से इसे ‘विश्वास की साझेदारी’ बताया। जबकि दोनों नेताओं ने सोमवार को हस्ताक्षरित अमेरिकी निवेश प्रोत्साहन समझौते पर विश्वास व्यक्त किया।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी, हमारे देश मिलकर बहुत कुछ कर सकते हैं और करेंगे भी। मैं अमेरिका-भारत साझेदारी को पृथ्वी पर हमारे सबसे करीब बनाने के लिए प्रतिबद्ध हूं। मुझे खुशी है कि हम यूएस डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन के लिए भारत में महत्वपूर्ण काम जारी रखने, वैक्सीन उत्पादन और स्वच्छ ऊर्जा पहल का समर्थन करने के लिए एक समझौते पर पहुंचे हैं। हम इंडो-यूएस वैक्सीन एक्शन प्रोग्राम का नवीनीकरण कर रहे हैं।

वहीं पीएम मोदी ने अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी को ‘सच्चे अर्थों’ में विश्वास के रूप में सराहना की। उन्होंने कहा, “हमारे सामान्य हितों और मूल्यों ने हमारे दोनों देशों के बीच विश्वास के इस बंधन को मजबूत किया है। हमारे लोगों से लोगों के बीच संबंध और मजबूत आर्थिक सहयोग भारत-अमेरिका साझेदारी को अद्वितीय बनाते हैं। हमारे व्यापार और निवेश संबंध भी लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन वे हमारी क्षमता से कम हैं।”

वहीं पीएम मोदी से मुलाकात के पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की। उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा, “कोरोना महामारी में पीएम मोदी ने शानदार काम किया है विस्तारवाद पर लोकतंत्र भारी है और ये मोदी ने साबित किया है। उन्होंने दिखाया की लोकतंत्र में काम कैसे होता है।”

पीएम मोदी ने इस बात पर भी ध्यान दिया कि अमेरिका और भारत “भारत-प्रशांत क्षेत्र पर समान विचार साझा करते हैं और द्विपक्षीय स्तर पर और साथ ही समान विचारधारा वाले देशों के साथ हमारी साझा चिंताओं की रक्षा के लिए काम करते हैं। उन्होंने कहा कि क्वाड मीटिंग के दौरान हुई चर्चा “इस सकारात्मक गति” को गति देगी। पीएम ने कहा कि दोनों देशों में तकनीकी सहयोग बढ़ा है और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मिलना हमेशा सुखद रहता है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट