ताज़ा खबर
 

अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर देशविरोधी बातें बर्दाश्त नहीं: शिवराज

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जेएनयू परिसर में कथित भारतविरोधी नारेबाजी करने वालों और इन लोगों के समर्थकों को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘सदियों से सभी प्राणियों और पूरे विश्व के कल्याण का संदेश दे रहे भारत को कुछ लोग अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की परिभाषा सिखाने की कोशिश कर रहे हैं।

Author इंदौर | February 27, 2016 10:13 PM
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (पीटीआई फाइल फोटो)

जेएनयू परिसर में कथित भारतविरोधी नारेबाजी पर बरसते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर देशविरोधी बातों को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। शिवराज ने ‘चित्र भारती फिल्मोत्सव’ के उद्घाटन समारोह में यहां शुक्रवार (26 फरवरी) रात कहा, ‘भारत में अभिव्यक्ति की जितनी आजादी है, उतनी आजादी दुनिया के किसी भी देश में नहीं है। लेकिन मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर देशविरोधी बातों को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।’

उन्होंने जेएनयू परिसर में कथित भारतविरोधी नारेबाजी करने वालों और इन लोगों के समर्थकों को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘सदियों से सभी प्राणियों और पूरे विश्व के कल्याण का संदेश दे रहे भारत को कुछ लोग अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की परिभाषा सिखाने की कोशिश कर रहे हैं। कोई शख्स किसी दूसरे मुल्क में ऐसे (देशविरोधी) नारे लगाकर देखे।’

शिवराज ने कहा, ‘भारत में मीर जाफर और जयचंद जैसे गद्दार पहले भी होते रहे हैं। लेकिन देश ने ऐसे लोगों को कभी स्वीकार नहीं किया है। जरूरत पड़ने पर हम भारत माता के सम्मान के लिये अपना सिर काटकर बलिवेदी पर चढ़ा देंगे। लेकिन देश का अपमान नहीं होने देंगे।’

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि समाज को मनोरंजक फिल्मों के साथ उद्देश्यपरक फिल्मों की भी जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘फिल्में बनाते वक्त हमें तय करना होगा कि हम अपनी नयी पीढ़ी को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं।’

उन्होंने फिल्म उद्योग के नुमाइंदों को सूबे के खंडवा जिले स्थित नये जल पर्यटन स्थल हनुवंतिया टापू पर शूटिंग के लिये आमंत्रित भी किया। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार इस पर्यटन स्थल को सिंगापुर के सेंटोसा टापू की तर्ज पर विकसित करना चाहती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App