ताज़ा खबर
 

JNU footage: दिल्‍ली सरकार ने ‘डॉक्‍टर्ड फुटेज’ दिखाने के मामले में 3 चैनलों को कोर्ट में घसीटा

सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और जेडीयू नेता केसी त्यागी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात कर ऐसे न्यूज चैनलों पर कार्रवाई की मांग की थी।

Author नई दिल्‍ली | Published on: April 24, 2016 1:00 PM
जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार। (पीटीआई फाइल फोटो)

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में 9 फरवरी को हुई कथित देशविरोधी नारेबाजी के वीडियो को प्रसारित करने के मामले में दिल्‍ली सरकार ने तीन टीवी चैनलों को कोर्ट में घसीटा है। आम आदमी पार्टी की सरकार ने शुक्रवार को जी न्‍यूज, न्‍यूज एक्‍स और इंडिया न्‍यूज के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट में चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्‍ट्रेट के पास शिकायत दर्ज कराई। इन चैनलों पर 9 फरवरी को हुई कथित नारेबाजी का डॉक्‍टर्ड वीडियो फुटेज प्रसारित करने का आरोप लगाया गया है।

दिल्‍ली सरकार ने वीडियो की सत्‍यता जांचने के लिए नई दिल्‍ली के डिस्ट्रिक्‍ट मजिसट्रेट से जांच कराई थी। जांच में फोरेंसिक रिपोर्ट के आधार पर वीडियो को डॉक्‍टर्ड बताया गया। गौरतलब है कि प्रसारित किए गए वीडियो में जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को भी दिखाया गया था।

Read Also: JNU ROW: कन्‍हैया कुमार के पक्ष-विपक्ष में अब तक सामने आए हैं ये FACTS

सूत्रों ने बताया कि सरकार की कानूनी टीम को आदेश दिया गया है कि वह उन तीन चैनलों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करे, जिनके नाम का जिक्र नई दिल्ली जिले के जिलाधिकारी (डीएम) की रिपोर्ट में किया गया है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया, ‘दिल्ली सरकार ने अपनी कानूनी टीम को उन तीन चैनलों के खिलाफ आपराधिक मुकदमा दायर करने का निर्देश दिया है, जिन्होंने जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार के बारे में ऐसे वीडियो प्रसारित किए जिनसे कथित तौर पर छेड़छाड़ की गई थी।’

इससे पहले सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और जेडीयू नेता केसी त्यागी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात कर ऐसे न्यूज चैनलों पर कार्रवाई की मांग की थी, जिन्होंने जेएनयू विवाद पर ऐसे वीडियो दिखाए जो कि डॉक्‍टर्ड पाए गए। दिल्ली सरकार की ओर से कराई गई मजिस्ट्रेट जांच में पाया गया था कि हैदराबाद की फॉरेंसिक लैब को भेजे गए सात वीडियो में से तीन से छेड़छाड़ की गई थी।

Read Also: कन्हैया कुमार का दावा- हवाई जहाज में एक शख्‍स ने गला दबाकर मेरी हत्‍या की कोशिश की

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X
Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X