ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: LoC पर पाकिस्तान ने दागे मोर्टार, इंडियन आर्मी के 2 जवान शहीद; कई घायल

Inidan Army, LoC, Pakistan: पाकिस्तानी सैनिकों ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा से लगी चौकियों पर मोर्टार के गोले दागे जिससे सेना के दो पोर्टर शहीद हो गए।

Author कश्मीर | Updated: January 10, 2020 3:41 PM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

Inidan Army, LoC, Pakistan: जम्मू -कश्मीर के पुंछ जिले के नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर शुक्रवार को पाकिस्तान द्वारा करीब 11 बजे सुबह गोलाबारी की गई। जिसमें मोर्टार के हमले से इंडियन आर्मी के दो जवान शहीद हो गए जबकि दो लोग घायल हो गए। बता दें कि पाक द्वारा सीमा के पास सीजफायर उल्लंघन की घटनाएं बंद होने का नाम नहीं ले रही है। फिलहाल सेना ने इस हमले का  करारा जवाब दिया है, हालात नियंत्रण में हैं।

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर मोर्टार के गोले दागे: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तानी सैनिकों ने आज सुबह जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा से लगी अग्रिम चौकियों पर मोर्टार के गोले दागे जिससे सेना के दो पोर्टर शहीद हो गए जबकि दो लोग घायल भी हुए हैं। अधिकारियों ने बताया कि घटना के समय नियंत्रण रेखा के पास चार पोर्टर काम कर रहे थे।

सेना ने कही यह बात: एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘करीब 11 बजे पाकिस्तानी सेना ने बिना किसी उकसावे के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास गुलपुर सेक्टर में मोर्टार के गोले दागे।’’ अधिकारियों ने बताया कि घायल दो पोर्टरों को अस्पताल में भर्ती किया गया है और अन्य दो पोर्टरों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है। बताया जा रहा है कि बाद में लापता जवानों के शहीद होने की खबर मिली है।

सेना का करारा जवाब: पुंछ में पाक की फायरिंग की वजह से गांववाले दहशत में हैं। फ़िलहाल सेना के घायल पोर्टरों का इलाज राजौरी जिले के अस्‍पताल में हो रहा है। इस बीच सेना की तरफ से पाकिस्तान की फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सेना की जवाबी कार्रवाई में पाक की चौकियों को काफी नुकसान पहुंचा है। कई पाक सैनिकों के घायल होने की भी आशंका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही! जिस महिला को बताया था मृत, अंतिम संस्कार के समय वह उठ बैठी
2 Delhi Elections 2019: ‘2020 के शांत केजरीवाल 2015 से ज्यादा खतरनाक, मोदी-शाह के लिए सबसे बड़ी चुनौती’ आप के पूर्व नेता रहे वरिष्ठ पत्रकार का दावा
3 CAA Protest: डेरेक ओ ब्रायन का बयान, नोटबंदी की ही तरह संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) से परेशान होंगे गरीबों
ये पढ़ा क्या?
X