ताज़ा खबर
 

कश्मीर के बडगाम में आतंकियों ने बीडीसी चेयरमैन को मारी गोली, पुलिस को बिना बताए चले गए थे पैतृक गांव

पुलिस ने बताया कि भूपिंदर बिना बताए अपने पैतृक गांव आ गए थे। बीडीसी चेयरमैन कई दिनों बाद वापस घर आए थे। घर आते वक़्त भूपिंदर ने दोनों पीएसओ को भी स्थानीय पुलिस थाने में छोड़ दिया था।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: September 24, 2020 12:36 PM
Jammu Kashmir, Encounter, Fake बीडीसी अध्यक्ष भूपिंदर सिंह को आतंकवादियों ने गोली मार दी, जहां उनकी मौत हो गई। (सांकेतिक फोटो)

जम्मू-कश्मीर में खग के ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (बीडीसी) के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह को बडगाम में आतंकवादियों ने गोली मार दी, जहां उनकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि वे बिना बताए अपने पैतृक गांव आ गए थे। बीडीसी चेयरमैन कई दिनों बाद वापस घर आए थे। घर आते वक़्त भूपिंदर ने दोनों पीएसओ को भी स्थानीय पुलिस थाने में छोड़ दिया था।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बडगाम जिले के खाग खंड के बीडीसी अध्यक्ष भूपिंदर सिंह को उनके पैतृक गांव दलवाश में आतंकवादियों ने रात करीब पौने आठ बजे गोली मार दी। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बीजेपी नेता और बीडीसी चेयरमैन भूपिंदर सिंह ने पुलिस स्टेशन खग में ही अपने दोनों पीएसओ को छोड़ दिया था और स्टेशन हाउस ऑफिसर को बताए बिना ही वे अपने पैतृक घर के लिए निकल गए। सूत्रों ने बताया कि सिंह अलुचीबाग श्रीनगर में रहते थे और आज ही खग गए थे।

पुलिस के मुताबिक घर से कुछ दूरी पर आतंकियों ने उसे रोक लिया और गोली मार दी। गोली लगने की वजह से उसकी मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुनकर लोग बाहर निकले तबतक आतंकी भाग चुके थे।

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और एनसी नेता उमर अब्दुल्ला ने बीडीसी की हत्या पर अफसोस जताया है। उन्होंने ट्वीट किया कि बीडीसी पार्षद भूपिंदर सिंह की हत्या के बारे में सुनकर बहुत अफसोस हुआ। मुख्यधारा के जमीनी राजनीतिक कार्यकर्ता आतंकवादियों के लिए आसान लक्ष्य हैं।

जम्मू-कश्मीर में बीते कुछ दिनों में स्थानीय नेताओं पर हमलों की कई घटनाएं सामने आई हैं। जुलाई और अगस्त में बडगाम और पास के जिलों में राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं और नेताओं की हत्याएं की गई थीं। कश्मीर में बीते कुछ समय से आतंकी हमलों की वारदातें बढ़ी हैं। सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की भी कई घटनाएं बीते दिनों में हुई हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पंजाब में उग्र हुआ किसानों का विरोध प्रदर्शन, रेल रोकों आंदोलन शुरू, सरकार को दी चेतावनी
2 इजराइली कंपनी के साथ एक समझौता करने में लग गए 15 साल, कैग ने Mi-17 हेलिकॉप्टरों के अपग्रेडेशन पर रक्षा मंत्रालय को लगाई झाड़
3 केरलः 400 मजदूरों की छिनेगी रोजीरोटी, हड़ताल और लॉकआउट से केरल में यूनिट बंद करेगी पेप्सी; लेबर डिपार्टमेंट ने जारी किया नोटिस
यह पढ़ा क्या?
X