ताज़ा खबर
 

कश्मीर: आतंकवादियों के 2 हमलों में एक जवान सहित 3 की मौत

कश्मीर में आज आतंकवादियों ने दो अलग अलग घटनाओं में सेना के एक गश्ती दल और बीएसएनएल के एक ‘‘फ्रेंचाइजी’’ को निशाना बनाया जिनमें एक सैनिक और एक आतंकवादी सहित तीन लोगों की मौत हो गयी जबकि दो घायल हो गए।

Author May 25, 2015 5:21 PM
जम्मू-कश्मीर के सोपोर में बीएसएनएल कर्मियों पर फायरिंग, एक की मौत

कश्मीर में आज आतंकवादियों ने दो अलग अलग घटनाओं में सेना के एक गश्ती दल और बीएसएनएल के एक ‘‘फ्रेंचाइजी’’ को निशाना बनाया जिनमें एक सैनिक और एक आतंकवादी सहित तीन लोगों की मौत हो गयी जबकि दो घायल हो गए।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने यहां से करीब 80 किलोमीटर दूर दक्षिण कश्मीर में कुलगाम जिले के यारीपोरा के कांजीकुला में सेना के एक गश्ती दल पर गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि इस गोलीबारी में जवान धरम राम घायल हो गया। बाद में धरम राम की मौत हो गई।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने तत्काल क्षेत्र को घेर लिया और एक आतंकवादी को एक बाग में खोज निकाला। वहां संक्षिप्त मुठभेड़ में आतंकवादी मारा गया।

इसके पहले आतंकवादियों ने यहां से 52 किलोमीटर दूर उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले में सोपोर के इकबाल बाजार में बीएसएनएल के एक ‘‘फ्रेंचाइजी आउटलेट’’ पर गोलीबारी की।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जाहिरा तौर पर यह हमला दूरसंचार परिचालकों को लक्षित था जिन्हें पहले भी धमकी दी जाती रही है।

उन्होंने बताया कि गोलीबारी में बीएसएनएल ‘‘फ्रेंचाइजी’’ के तीन कर्मी घायल हो गए। घायलों को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें श्रीनगर का एक अस्पताल रेफर कर दिया।

घायलों में से एक मोहम्मद रफीक :26: की श्रीनगर अस्पताल में मौत हो गई। रफीक कुपवाड़ा जिले के हंडवारा इलाके का रहने वाला था।

अधिकारी के अनुसार, दो घायलों….. गुलाम मोहम्मद भट (40) और इम्तियाज अहमद लोन :30: का इलाज चल रहा है। दोनों सोपोर रहने वाले हैं।

सोपोर क्षेत्र में बीते 48 घंटे से भी कम समय में यह ऐसा दूसरा हमला है।

इसके पहले संदिग्ध आतंकियों ने 23 मई और 24 मई की मध्य रात्रि को एक रिहायशी परिसर पर ग्रेनेड फेंका था। उस परिसर में मोबाइल ट्रांसमिशन टावर लगा हुआ था।

अधिकारियों ने हालांकि इस बारे में कुछ नहीं कहा कि आतंकवादी दूरसंचार से जुड़े प्रतिष्ठानों को क्यों निशाना बना रहे हैं? लेकिन सूत्रों ने बताया कि आतंकी सोपोर और इसके आसपास के इलाकों में मोबाइल ट्रांसमिशन टावरों से अपने संचार उपकरणों के ‘चोरी’ हो जाने के कारण नाराज हैं।

आतंकियों ने निजी एवं सरकारी कंपनियों के टावरों के ऊपर कथित रूप से अपने संचार उपकरण लगा रखे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App