jk-floods-10-dead-9-missing-in-budgam-landslide - Jansatta
ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर में भूस्खलन: 6 शव बरामद, मृतक संख्या पहुंची 16

जम्मू के कुछ हिस्सों और घाटी के कई स्थानों में मूसलाधार वर्षा के कारण भूस्खलन से मारे गए छह अन्य लोगों के शव आज बरामद किए गए और इसके साथ ही जम्मू कश्मीर में वर्षा और बाढ के कारण मरने वालों की संख्या बढकर 16 हो गई है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि […]

Author March 31, 2015 12:03 PM
कश्मीर बाढ़: घट रहा है ‘झेलम’ का जलस्तर

जम्मू के कुछ हिस्सों और घाटी के कई स्थानों में मूसलाधार वर्षा के कारण भूस्खलन से मारे गए छह अन्य लोगों के शव आज बरामद किए गए और इसके साथ ही जम्मू कश्मीर में वर्षा और बाढ के कारण मरने वालों की संख्या बढकर 16 हो गई है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बडगाम में चादूरा के लादेन गांव में छह और लोगों के शव बरामद हुए हैं। एक व्यक्ति भूस्खलन के दौरान फंस गया था और उसके भी मरने की आशंका है।

राहत एवं बचाव कार्य जारी है और इस काम में मदद के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के आठ दलों को घाटी भेजा गया है। स्थानीय अधिकारियों द्वारा घाटी में बाढ की स्थिति घोषित करने के बाद सैन्य बलों को चार हेलीकाप्टरों के साथ तैनाती के लिए तैयार रखा गया है ताकि कम नोटिस पर उनकी सेवा ली जा सके।

केन्द्र सरकार ने तत्काल राहत के रूप में 200 करोड़ रूपये मंजूर किये हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को स्थिति की समीक्षा करने और आवश्यक सहायता के सिलसिले में राज्य के अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए कश्मीर भेजा है।

सप्ताहांत से जारी भारी बारिश के कारण झेलम नदी अनंतनाग जिले के संगम तथा श्रीनगर के राममुंशी बाग सहित कई इलाकों में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

बारिश, कश्‍मीर,flood fear, haunts, kashmir, jhelum श्रीनगर में भारी बारिश की वजह से आई बाढ़ के बाद सुरक्षित स्थान की ओर जाते लोग। (एक्सप्रेस फोटो: शूएब मसूदी)

 

बाढ़ का पानी राज्य की राजधानी श्रीनगर सहित कश्मीर के विभिन्न निचले इलाकों में प्रवेश कर गया है। इसके कारण स्थानीय लोगों के बीच घबराहट बढ़ गयी है क्योंकि उन्हें सात माह पहले आयी प्रलयकारी बाढ़ की विनाशलीला का खौफ फिर से डराने लगा है ।

राज्य में पिछले साल सितंबर में आयी भीषण बाढ़ के कारण 280 से अधिक लोगों की जान गयी थी तथा हजारों लोग बेघर हो गये थे और करोड़ों रूपये की संपत्ति नष्ट हो गयी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App