ताज़ा खबर
 

OMG! गाय के नाम जारी हुआ परीक्षा का ऐडमिट कार्ड

जम्मू-कश्मीर के अधिकारियों ने अगले सप्ताह यहां होने वाली पेशेवर प्रवेश परीक्षा में बैठने के लिए एक गाय के नाम पर प्रवेशपत्र जारी कर दिया है।
गाय को जारी किया प्रवेश परीक्षा का ऐडमिट कार्ड (स्रोत: @ Junaid_Mattu / ट्विटर )

जम्मू-कश्मीर के अधिकारियों ने अगले सप्ताह यहां होने वाली पेशेवर प्रवेश परीक्षा में बैठने के लिए एक गाय के नाम पर प्रवेशपत्र जारी कर दिया है।

बोर्ड ऑफ प्रोफेशनल एंट्रेंस एक्जामिनेशंस (बीओपीईई) ने पॉलीटेक्निक में डिप्लोमा प्रवेश परीक्षा के लिए काचिर गाव (भूरी गाय) के नाम पर प्रवेश पत्र जारी किया है, जो गूरा दंड (लाल सांड़) की बेटी है।

गाय को 10 मई को होने वाली परीक्षा में गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज, बेमिना में बैठने के लिए एक सीट आवंटित किया गया था।

इस वाकये का पता तब चला जब विपक्षी नेशनल कांफ्रेंस के प्रवक्ता जुनैद अजीम मट्टू ने ट्विटर पर इस प्रवेश पत्र की प्रति अपलोड की।

मट्टू ने लिखा, जम्मू-कश्मीर बोर्ड ऑफ प्रोफेशनल एंट्रेस एक्जामिनेशंस ने यह अनुक्रमांक पर्ची जांच के बाद गाय के नाम पर जारी की। मेरे पास आवेदक काचिर गाव के लिए प्रोविजनल कन्फर्मेशन पेज के साथ-साथ उसने बीओपीईई को जो भुगतान किया उसका ब्योरा भी है।

मट्टू ने दावा किया कि राज्य सरकार के कहने पर बीओपीईई की साइट से प्रवेश पत्र के रिकॉर्ड को वापस ले लिया गया है। उन्होंने कहा, शिक्षा मंत्री नईम अख्तर ऐट जेकेपीडीपी को कुछ स्पष्टीकरण देना है।

उनके तहत शिक्षा क्षेत्र में नया कीर्तिमान स्थापित करने वाली प्रगति, गाय को भी अनुक्रमांक पर्ची मिल रही है। पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के कार्यवाहक अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने भी मट्टू के पोस्ट पर टिप्पणी की। उन्होंने कहा, बहुत बढ़िया। मैं काचिर गाव के परीक्षा में उपस्थित होने की कामना करता हूं।

बीओपीईई के परीक्षा नियंत्रक फारूक अहमद मीर ने कहा कि अधिकारियों के हाथ में बहुत कुछ नहीं है जिससे लोगों को इस तरह का मजाक करने से रोका जा सके। उन्होंने कहा, सारे आवेदन अब ऑनलाइन किए जाते हैं। फोटो पहचानने वाला सॉफ्टवेयर मानव और पशु की तस्वीर में अंतर नहीं कर सकता।

प्रवेशपत्र पर उनके हस्ताक्षर के बारे में पूछे जाने पर मीर ने कहा, मैं व्यक्तिगत रूप से प्रवेश पत्र पर हस्ताक्षर नहीं करता। यह प्रणाली जनित हस्ताक्षर है।

इनपुट एजंसी 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.