ताज़ा खबर
 

‘भतीजे की ममता पड़ रही है बहुत भारी, चाहे जितेन्द्र तिवारी हो या शुवेंदु अधिकारी’, डिबेट में शायरना अंदाज में BJP नेता ने ममता बनर्जी पर ली चुटकी

तृणमूल कांग्रेस नेता शुवेंदु अधिकारी ने पार्टी छोड़ दी है। इस बात की चर्चा है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे के दौरान अधिकारी भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। (file)

बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने न्यूज 18 इंडिया पर डिबेट के दौरान ममता बनर्जी पर चुटकी लेते हुए कहा, ‘भतीजे की ममता पड़ रही है बहुत भारी, चाहे जितेन्द्र तिवारी हो या शुवेंदु अधिकारी देखी जमाने की यारी। बिछड़े सभी बारी-बारी।’ त्रिवेदी ने कहा कि ममता बनर्जी को तय करना है कि उनकी ममता किसके लिए है। सिर्फ अपने और अपने परिवार के लिए या अपने सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं के लिए। सोचने की बात है कि ऐसा क्यों हो रहा है कि एक के बाद एक लोग छोड़कर आ रहे हैं। आरोप सबका एक है कि ममता बनर्जी अपनी मनमर्जी चला रही हैं।

त्रिवेदी ने कहा कि ममता बनर्जी को याद रखना चाहिए कि बंगाल वो भूमि है जहां अंग्रेजों का दमन नहीं चला तो उनका दमन क्या चलेगा। एंकर ने जब पूछा कि बीजेपी तो टीएमसी 2 बनती जा रही है तो त्रिवेदी ने कहा कि जग के ठुकराए लोगों को मेरे घर का खुला द्वार।

जवाब में टीएमसी प्रवक्ता तौसीफ खान ने कहा कि आज बंगाल के लोगों को दिख रहा है कि हर जगह तृणमूल ही तृणमूल है। एक जगह ममता का तृणमूल है दूसरी जगह दिलीप घोष का तृणमूल है। बंगाल की जनता तय करेगी कि वो असली तृणमूल यानी ममता बनर्जी को चुनती है या नकली तृणमूल दिलीप घोष को चुनती है।

बता दें कि तृणमूल कांग्रेस नेता शुवेंदु अधिकारी ने पार्टी छोड़ दी है। इस बात की चर्चा है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे के दौरान अधिकारी भाजपा में शामिल हो सकते हैं। तृणमूल के एक दूसरे नेता जितेंद्र तिवारी ने भी टीएमसी छोड़ दी है। टीएमसी को ये झटका पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 से पहले लगा है। विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद, 16 दिसंबर को अधिकारी ने TMC की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।

बता दें कि ममता बनर्जी के राजनीतिक कद को ऊंचा करने और नंदीग्राम आंदोलन में अधिकारी का अहम योगदान रहा है। बीते कुछ समय में उन्होंने कई मौकों पर टीएमसी नेतृत्व की आलोचना की थी। पार्टी ने उन्हें वापस लुभाने के कई प्रयास किए लेकिन कोई असर नहीं हुआ। टीएमसी के वरिष्ठ नेता दिप्तांगशु चौधरी ने भी दक्षिण बंगाल राज्य परिवहन निगम के अध्यक्ष के पद से अपना इस्तीफा दे दिया है।

वहीं अधिकारी के फैसले का स्वागत करते हुए, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय ने दावा किया कि “यह सत्ताधारी पार्टी के अंत की शुरुआत है जो अब ताश के पत्तों की तरह ढह जाएगी।” उन्होंने कहा कि भगवा पार्टी उनका स्वागत खुले हाथों से करेगी।

रॉय ने कहा, “जिस दिन शुवेंदु अधिकारी ने राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिया, मैंने कहा था कि अगर वह टीएमसी छोड़ कर भाजपा में शामिल होते हैं तो मुझे खुशी होगी। आज, उन्होंने पार्टी छोड़ दी है। हम उनका स्वागत करते हुए खुश होंगे।”

Next Stories
1 डिबेट में बोले BJP नेता- किसान का बेटा जवान बनकर शहीद होता है तो JNU में जश्न होता है, AAP सांसद ने दिया जवाब
2 ‘लैला तुम ही हो जिसने भारतीय राजनीति को किया मैला’, Republic TV के डिबेट शो में गौरव भाटिया ने असदुद्दीन ओवैसी पर साधा निशाना
3 किसान आंदोलन: कृषि मंत्री ने 8 पेज की चिट्ठी में किसानों को दिये 8 आश्वासन, बोले- राजनीति के लिए कुछ लोग फैला रहे झूठ
ये पढ़ा क्या?
X