ताज़ा खबर
 

झारखंडः हेल्थकेयर सिस्टम मजबूत करने के बजाए अर्थी तैयार करवा रही सरकार

गोड्डा नगर परिषद अध्यक्ष जितेंद्र कुमार मंडल ने कहा कि हर ब्लॉक के लिए दस-दस की संख्या में जिला प्रशासन की ओर अर्थी (चचरी) बनाने का निर्देश दिया गया है। बीमारी की वजह से लगातार हो रही मौतों को देखते हुए ऐसा किया जा रहा है।

corona, covid-19, jharkhand, jharkhand government, death by coronaऑक्सीजन के बजाए अर्थी तैयार करने में जुटी झारखंड सरकार (फोटोः ट्विटर@prabhatkhabar)

गोड्डा जिले में हर दिन कोरोना से मौत हो रही है, लेकिन ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कराने की बजाय जिला प्रशासन अर्थी बनवा रहा है। जिला प्रशासन के निर्देश पर नगर परिषद ने शव ढोने के लिए बड़ी संख्या में बांस की अर्थी बनाने का ऑर्डर दिया है। हटिया परिसर में रह रहे मोहली परिवार दिन रात ऑर्डर पूरा करने में लगे हैं।

सूत्रों का कहना है कि तत्काल करीब 200 अर्थी बनाने का ऑर्डर दिया गया है। गोड्डा नगर परिषद अध्यक्ष जितेंद्र कुमार मंडल ने कहा कि हर ब्लॉक के लिए दस-दस की संख्या में जिला प्रशासन की ओर अर्थी (चचरी) बनाने का निर्देश दिया गया है। बीमारी की वजह से लगातार हो रही मौतों को देखते हुए ऐसा किया जा रहा है। रविवार की देर शाम तक करीब 150 बांस की अर्थी बन कर तैयार हो गई हैं।

बड़ी संख्या में बन रहे शव ढोने की अर्थी को लेकर लोगों में भय का माहौल है। जिले में रोजोना कोरोना मरीजों की मौत हो रही है। हर दिन तीन से चार की संख्या में मौत हो रही हैं। शव का दाह संस्कार कोविड प्रोटोकॉल के तहत किया जाता है। ऐसे में शवों के दाह संस्कार का जिम्मा जिला प्रशासन का है। इस बाबत नगर परिषद की ओर से अर्थी बनवा कर शवों का दाह संस्कार करने की तैयारी की जा रही है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि ऐसा मंजर आज तक नहीं देखा था। स्थानीय लोगों ने बताया कि इस दृश्य को देख कर लोग डर गए हैं। उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि इसके लिए सरकार व जिला प्रशासन कम जिम्मेवार नहीं है। ऑक्सीजन की कमी होने से लोगों की मौत हो रही है। सरकार लोगों को चिकित्सा सुविधा देने में नाकाम रही है। पिछली लहर से कोई सबक नहीं लिया गया है।

झारखंड में कोराना संक्रमण का प्रसार लगातार जारी है। पिछले 24 घंटे में 3,838 नए पॉजिटिव मरीजों की पहचान की गई। वहीं, 30 संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। मृतकों में पूर्वी सिंहभूम से 6, रांची से 5, बोकारो से 4, पश्चिमी सिंहभूम, रामगढ़, साहेबगंज और खूंटी से 2-2 जबकि धनबाद, दुमका, गोड्‌डा, गढ़वा, कोडरमा, पलामू व लातेहार से 1-1 मरीज शामिल हैं। पिछले 6 दिनों में राज्य के विभिन्न जिलों में कोरोना से 193 लोगों की मौत हो चुकी है। अब एक्टिव मरीजों की संख्या 23,045 पहुंच गई है। इनमें से केवल रांची से 9,400 मरीज शामिल हैं।

Next Stories
1 योगी सरकार की हाईकोर्ट को ना, बोली-लोगों की आजीविका भी बचानी है, लॉकडाउन नहीं लगा सकते
2 एमपी में लाठीचार्ज पर कांग्रेस का वार- लाठी से कोरोना नहीं भागता, रैलियां छोड़ काम करे सरकार
3 रातो-रात नहीं खत्म हो पाएगी रेमडिसिवर की किल्लत, मांग न होने से घटा उत्पादन
यह पढ़ा क्या?
X