ताज़ा खबर
 

Jharkhand Assembly Election 2019: तीसरे चरण की वोटिंग जारी, पहले हेमंत सोरेन और सरयू राय ने रांची एयरपोर्ट पर की गुफ्तगू

Jharkhand Assembly/Vidhan Sabha Election 2019: मुलाकात के बाद झामुमों अध्यक्ष ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस मुलाकात पर ट्वीट किया।

harkhand election, jharkhand election 2019, jharkhand election voting, jharkhand election news, jharkhand election polling, jharkhand election 2019 live, jharkhand chunav, jharkhand assembly election 2019, jharkhand vidhan sabha chunav, jharkhand vidhan sabha election live news, jharkhand today news, jharkhand election latest news, jharkhand election result dateझारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन और बीजेपी के बागी नेता सरायू राय। फोटो: Hemant Soren/Twitter

Jharkhand Assembly Election 2019: झारखंड विधानसभा चुनाव में तीसरे चरण के लिए मतदान जारी है। सभी दल अपनी-अपनी जीत का दावा कर रह हैं। पार्टी प्रमुख, उम्मीदवार और कार्यकर्ता जमकर प्रचार-प्रसार करने में व्यस्त हैं। चुनावी सरगर्मियों और प्रचार के बीच औक वोटिंग से पहले झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन और बीजेपी के बागी नेता सरायू राय की रांची एयरपोर्ट पर मुलाकात हुई। इस दौरान दोनों ने मीडिया के सामने ही एक दूसरे का अभिवादन किया। हालांकि दोनों के बीच इस दौरान क्या बातचीत हुई इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी।

मुलाकात के बाद झामुमो अध्यक्ष ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस मुलाकात पर एक ट्वीट किया। उन्होंने मुलाकात की तस्वीरें भी साझा की। सोरेन ने ट्वीट में लिखा ‘रांची एयरपोर्ट पर पूर्व मंत्री माननीय सरायू राय जी से भेंट हुई एवं झारखंड के मुद्दों पर चर्चा हुई।’ हालांकि ट्वीट में इतनी ही जानकारी साझा की गई जिससे यह साफ नहीं है कि दोनों नेताओं के बीच असल में इस मुलाकात के दौरान किस मुद्दे पर बातचीत हुई।

बता दें कि वरिष्ठ नेता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री सरायू राय अपनी पार्टी के खिलाफ जाकर मुख्यमंत्री रघुबर दास के खिलाफ ही चुनावी ताल ठोक रहे हैं। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को जल्द पता चल जाएगा कि उनकी क्या अहमियत है।

सरायू राय की माने तो वे राज्यपाल को इस्तीफा भेज चुके हैं। लेकिन राजभवन से मिली सूचना के मुताबिक सरयू राय ने अब तक झारखंड मंत्रि परिषद से इस्तीफा नहीं दिया है। एक मत यह भी है कि बीजेपी आलाकमान उनका इस्तीफा स्वीकार करने में अभी और देरी कर सकता है। पार्टी का मानना है कि अगर चुनाव के दौरान इस्तीफा स्वीकार कर लिया जाता है तो सरायू राय की जनता के बीच एक हीरो की छवि बनकर उभरेगी जिसका सीएम दास को ही नुकसान उठाना पड़ सकता है। हालांकि अपनी ही पार्टी के नेता के खिलाफ चुनाव लड़ने से उनकी सदस्यता पहले ही निलंबित की जा चुकी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Citizenship Amendment Bill Protests Updates: CAB का विरोध कर रही ज्वाइंट मूवमेंट के सदस्यों ने गृह मंत्री से की मुलाकात, अनिश्चितकालीन हड़ताल वापस ली
2 CAB पर भड़कीं प्रियंका गांधी, कहा- संविधान की आत्मा छलनी करने वाला विधेयक, भाजपाई मंसूबों के खिलाफ पूरी मजबूती से लड़ेंगे
3 Kerala Lottery Today Results announced: 70 लाख रुपए तक का इनाम घोषित, यहां करें चेक
राशिफल
X