ताज़ा खबर
 

झारखंड: अंतिम चरण में 6 जिलों की 16 सीटों पर CAA से BJP को हो सकता है बड़ा नुकसान, 20 से 30% है मुस्लिम आबादी

राजनीतिक जानकारों का मानना है कि इस चरण में पांच सीटों देवघर, गोड्ड़ा, जामताड़ा, पाकुड़ और साहेबगंज पर अल्पसंख्यक आबादी 20 फीसदी से अधिक है। ऐसे में भाजपा को यहां वोटों का नुकसान हो सकता है।

अमित शाह पाकुड़ में पार्टी उम्मीदवार के समर्थन में रैली कर चुके हैं। (फोटोः पीटीआई)

झारखंड में अंतिम चरण के लिए 20 दिसंबर को मतदान होने वाला है। इस चरण में राज्य की 16 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। जिन विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे उनमें राजमहल, बोरियो, बरहेट, लिट्टीपाड़ा, पाकुड़, महेशपुर, शिकारीपाड़ा, दुमका, जामा, जरमुंडी, नाला, जामताड़ा, सारठ, पोडै़याहाट, गोड्डा और महगामा सीट शामिल है।

इनमें से तीन सीटें लिट्टीपाड़ा, महेशपुर व शिकारीपाड़ा अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। साल 2014 में इन 16 सीटों में से भाजपा और झारखंड मुक्ति मोर्चा के पास 6-6, कांग्रेस के पास 3 और झारखंड विकास मोर्चा एक विधायक है। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि इस चरण में पांच सीटों देवघर, गोड्ड़ा, जामताड़ा, पाकुड़ और साहेबगंज पर अल्पसंख्यक आबादी 20 फीसदी से अधिक है।

वहीं, साहिबगंज और पाकुड़ में अल्पसंख्यकों की संख्या 30 फीसदी तक है। इस क्षेत्र में कई मुस्लिम परिवार हैं। ऐसे में इन सीटों पर नागरिकता संशोधन कानून से भाजपा को बड़ा नुकसान हो सकता है। ये दोनों जिले बंगाल के मुर्शिदाबाद और मालदा से जुड़े हैं। इतना ही नहीं ये बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा से महज 50 किलोमीटर की दूरी पर है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पाकुड़ और पोरेयाहाट में दो रैलियां भी कर चुके हैं।

कांग्रेस ने पाकुड़ से मौजूदा विधायक आलमगीर अलम को टिकट दिया है। वहीं भाजपा की तरफ से बेनी प्रसाद गुप्ता मुकाबले में हैं। शाह ने यहां अपनी रैली के दौरान 1855 में ब्रिटिश शासन के खिलाफ बगावत करने वाले स्थानीय हीरो सिद्धू कान्हू का जिक्र किया था।

साल 2014 में झारखंड मुक्ति मोर्चा इस सीट पर दूसरे जबकि भाजपा तीसरे स्थान पर थी। इस बार झामुमो और कांग्रेस के एक साथ आने के बाद यहां विपक्षी मत एकजुट दिखाई दे रहे हैं। चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी यहां रैली को संबोधित किया था।

जामताड़ा सीट से कांग्रेस के मौजूदा विधायक  इरफान अंसारी चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं भाजपा ने उनके खिलाफ वीरेंद्र मंडल को चुनाव में उतारा है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार कर चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कोर्टरूम में जज ने दिल्ली गैंगरेप के आरोपी के वकील को हड़काया- पुरानी बातें कह समय जाया न करें तो मीडिया को कहने लगे भला-बुरा
2 सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली गैंगरेप आरोपी की पुनर्विचार याचिका की खारिज, फांसी की सजा बरकरार, दया याचिका के लिए मांगे तीन हफ्ते
3 देखती हूं बंगाल में कैसे लागू करते हैं CAA, आर-पार के मूड में ममता बनर्जी; अमित शाह को दी चुनौती
ये पढ़ा क्या?
X