ताज़ा खबर
 

जेडीयू विधायक बोले- पीएम की कुर्सी के दावेदार हैं नीतीश कुमार, दिल्ली पहुंचे सीएम ने कहा- निजी काम से आया हूं

मंगलवार को दिल्ली पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी तरह की अटकलों और चर्चाओं पर विराम लगाते हुए कहा कि वे तो यहां पर अपनी आंख के इलाज के लिए आए हैं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वे केवल अपनी आंख के इलाज के लिए दिल्ली आए हैं। उनकी इस यात्रा का कोई राजनीतिक मकसद नहीं है। (फोटो- एएनआई)

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में भाजपा और जदयू गठबंधन की सरकार चल रही है। इसी बीच जदयू विधायक गोपाल मंडल से ऐसा बयान दिया है जिससे सहयोगी पार्टी भाजपा के नेता नाराज हो सकते हैं। जदयू विधायक ने कहा कि नीतीश कुमार प्रधानमंत्री पद के दावेदार हैं। वहीं मंगलवार को दिल्ली पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वे निजी काम से दिल्ली आए हैं ना कि किसी तरह के राजनीतिक दौरे पर आए हैं।

अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर बिहार के भागलपुर से जदयू विधायक गोपाल मंडल ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की असली कुर्सी दिल्ली में है और वे पीएम मटेरियल हैं। साथ ही गोपाल मंडल ने कहा कि भविष्य में कांग्रेस और राजद में टूट होगी और उनके बागी नेता जदयू में शामिल होंगे। इससे पार्टी को ताकत मिलेगी और हम भाजपा को टक्कर देंगे। इसके बाद हमारे नेता नीतीश कुमार प्रधानमंत्री पद का दावा करेंगे।

वहीं दूसरी तरफ मंगलवार को दिल्ली पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी तरह की अटकलों और चर्चाओं पर विराम लगाते हुए कहा कि वे तो यहां पर अपनी आंख के इलाज के लिए आए हैं। दरअसल यह कयास लगाए जा रहे थे कि केंद्रीय कैबिनेट विस्तार को लेकर नीतीश कुमार प्रधानमंत्री मोदी और शीर्ष भाजपा नेताओं से मिल सकते हैं। हालांकि उन्होंने साफ़ कर दिया कि उनकी प्रधानमंत्री मोदी से मुलाक़ात को लेकर कोई बात नहीं हुई है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वे केवल अपनी आंख के इलाज के लिए दिल्ली आए हैं। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही इसके लिए डॉक्टर से मिलेंगे। उनकी आंख में पिछले कुछ समय से समस्या थी और वे उसी के चेकअप व इलाज के लिए दिल्ली पहुंचे हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कह दिया कि उनकी इस यात्रा का कैबिनेट विस्तार से कोई लेना देना नहीं है।

दिल्ली पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोजपा में हुई टूट पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी। नीतीश कुमार ने कहा कि लोजपा में टूट उनके अंदर का मामला है। नीतीश कुमार ने इशारों में चिराग पासवान पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग पब्लिसिटी लेने के लिए जदयू के खिलाफ बोलते रहे हैं। इसलिए वे इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहते हैं. लोजपा में टूट उनका आंतरिक मामला है।

Next Stories
1 भारत में अमेरिका से भी महंगी वैक्सीन, प्राइवेट अस्पतालों को वैक्सीन देने पर सवाल, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला
2 रिकॉर्ड वैक्सिनेशन के छपे पोस्टर-बैनर, फिर भी गिर गया टीकाकरण का आंकड़ा
3 2024 में मोदी के खिलाफ चुनौती बनेंगी ममता? गुपकार का भी खुले शब्दों में समर्थन
ये पढ़ा क्या?
X