scorecardresearch

जापान : मंत्रियों पर वित्तीय अनियमितताओं की गाज

जापान में वित्त संबंधी अनियमितताओं का मुद्दा बड़ा बन गया है और इससे वहां की सरकार पर दबाव बनता दिख रहा है।

जापान : मंत्रियों पर वित्तीय अनियमितताओं की गाज
जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ।

बढ़ते दबाव के चलते जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने वित्त संबंधी अनियमितताओं के चलते गृह मंत्री को रविवार को बर्खास्त करना पड़ा। इस घटनाक्रम को घोटाले के आरोपों का सामना कर रहे उनके मंत्रिमंडल के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है। इससे पहले फुमियो किशिदा एक माह के भीतर ही दो मंत्रियों को बर्खास्त कर चुके हैं।

जापान के गृह मंत्री मिनोरू टेराडा कई लेखांकन और वित्त संबंधी अनियमितताओं को लेकर आलोचना का शिकार रहे हैं। उन्हें बर्खास्त करने के बाद जापानी प्रधानमंत्री ने मीडियाकर्मियों से कहा, ‘लगातार मंत्रियों के इस्तीफे के लिए मैं क्षमा मांगता हूं। मैं उनकी नियुक्ति को लेकर अपनी जिम्मेदारियों से पूरी तरह से अवगत हूं।’

उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा कि वह सोमवार को टेराडा के स्थान पर नए मंत्री के नाम की घोषणा करेंगे। टेराडा ने प्रधानमंत्री कार्यालय के बाहर कहा कि उन्होंने अपना इस्तीफा किशिदा को सौंप दिया है। हालांकि, उन्होंने यह नहीं कहा कि उन्हें ऐसा करने के लिए कहा गया था। टेराडा ने कहा, ‘मैंने अपना मन बना लिया है क्योंकि मुझे अपनी समस्याओं के कारण प्रमुख विधानों की संसदीय चर्चा में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।’

किशिदा ने 10 अगस्त को अपने मंत्रिमंडल में दूसरा फेरबदल किया था और उम्मीद जताई थी कि इससे राजनीति अनिश्चितता खत्म होगी। जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की आठ जुलाई को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और इस घटना के बाद किशिदा मंत्रिमंडल के लिए जनता का समर्थन कम होने के कारण अनिश्चितता की स्थिति पैदा हो गई थी। तब के फेरबदल में चर्च के साथ अपने संबंधों को स्वीकार करने वाले सात मंत्रियों को हटा दिया गया था। इनमें रक्षा मंत्री नोबुओ किशी और जन सुरक्षा आयोग के अध्यक्ष सतोशी निनोयु शामिल थे। किशी की जगह यासुकाजु हमदा को रक्षा मंत्री बनाया गया, जबकि टारो कोनो को डिजिटल मंत्री बनाया गया।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 22-11-2022 at 01:09:15 am