ताज़ा खबर
 

जम्मू कश्मीर: आतंकी समूहों में शामिल हो रहे हैं घाटी के युवा, सुरक्षा एजेंसियों ने जताई चिंता

खुफिया एजेंसियों की विभिन्न रिपोर्टों में दावा गया है कि करीब 20 युवाओं के आतंकवादी समूहों में शामिल होने का संदेह है।

Author नई दिल्ली | June 24, 2016 10:26 am
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जम्मू कश्मीर में हाल में ज्यादा संख्या में युवाओं के आतंकवादी समूहों में शामिल होने को लेकर सुरक्षा एजेंसियां चिंतित हैं और उन्होंने इस प्रवृति पर रोक के लिए जल्दी कदम उठाए जाने को कहा है। केंद्रीय गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि स्थानीय युवाओं के अधिक संख्या में भर्ती होने और आतंकवाद से जुड़ी हिंसा में इजाफा चिंता के विषय हैं। अधिकारियों ने कहा कि इसका हल निकालने के लिए केंद्र और जम्मू कश्मीर सरकार दोनों एक दूसरे के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर घाटी में युवाओं को चरमपंथ से रोकने के लिए विशेष कार्यक्रम शुरू किए जाने की संभावना है।

अधिकारियों ने इस साल स्थानीय भर्ती के संबंध में कोई आंकड़ा नहीं दिया लेकिन खुफिया एजेंसियों की विभिन्न रिपोर्टों में दावा गया है कि करीब 20 युवाओं के आतंकवादी समूहों में शामिल होने का संदेह है। इनमें अधिकतर के हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल होने का संदेह है। अधिकारियों ने यह भी कहा कि राज्य में आतंकवाद से संबंधित हिंसा में वृद्धि हुयी है और इसका मुख्य कारण घाटी में नियंत्रण रेखा के पार से बढ़ती घुसपैठ है। उन्होंने कहा कि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फ के जल्दी पिघलने के कारण सीमा पार से घुसपैठ में वृद्धि हुई है। हालांकि अधिकारियों ने बताया कि राज्य में इस साल सुरक्षा एजेंसियों ने 67 आतंकवादियों को मार गिराया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App