ताज़ा खबर
 

जम्मू हिंसा: हालात तनावपूर्ण, सरकार ने दिए मजिस्ट्रेट जांच के आदेश

जम्मू में तनावपूर्ण हालात के बीच अनेक हिस्सों में आज सेना तैनात की गयी जहां आज पुलिस के साथ संघर्ष में मारे गये सिख युवक का अंतिम संस्कार किया गया। राज्य सरकार ने मामले में मजिस्ट्रेटी जांच कराने...

Author Updated: June 6, 2015 4:31 PM

जम्मू में तनावपूर्ण हालात के बीच अनेक हिस्सों में आज सेना तैनात की गयी जहां आज पुलिस के साथ संघर्ष में मारे गये सिख युवक का अंतिम संस्कार किया गया। राज्य सरकार ने मामले में मजिस्ट्रेटी जांच कराने तथा जिला पुलिस प्रमुख का तबादला करने समेत प्रदर्शनकारियों की अधिकतर मांगों को स्वीकार कर लिया है।

सेना ने जम्मू में मिरान साहिब, सतवारी, डिगियाना, आरएस पुरा, तालाब टिल्लू, बख्शी नगर और रिहाड़ी समेत अनेक समस्याग्रस्त इलाकों में आज सुबह ‘फ्लैग मार्च’ निकाला। खालिस्तानी उग्रवादी नेता जरनैल सिंह भिंडरांवाले की 31वीं बरसी के मद्देनजर सुरक्षा बढ़ाई गयी है।

कुछ इलाकों में भिंडरांवाले के पोस्टर हटाने को लेकर सिख समुदाय के चार दिन से चल रहे प्रदर्शन के बाद बने तनावपूर्ण हालात के मद्देनजर पुलिस के त्वरित प्रतिक्रिया दलों (क्यूआरटी) को भी तैनात किया गया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘जम्मू में हालात शांतिपूर्ण लेकिन तनावग्रस्त हैं। आज कहीं से किसी अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है। संवेदनशील हालात को देखते हुए व्यापक सुरक्षा इंतजाम किये गये हैं।’’

रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने बताया कि शहर प्रशासन के अनुरोध के बाद शहर में सेना की दो टुकड़ी तैनात की गयी हैं। उन्होंने बताया कि एक टुकड़ी को दंगाइयों तथा हिंसक प्रदर्शनकारियों को सचेत करने के लिहाज से ‘फ्लैग मार्च’ निकालने के लिए मिरान साहिब जाने वाले रास्तों पर तैनात किया गया। इसके फौरन बाद सैनिकों की एक और टुकड़ी को आरएस पुरा में हालात को काबू में करने के लिए भेजा गया। मेहता ने कहा, ‘‘हालात तनावपूर्ण हैं लेकिन नियंत्रण में हैं।’’

इस बीच गुरुवार को पुलिस के साथ संघर्ष में मारे गये सिख युवक का आज अंतिम संस्कार कर दिया गया। राज्य सरकार ने प्रदर्शनकारी लोगों की अधिकतर मांगों को स्वीकार कर लिया है।

सरकार ने गोलीबारी की घटना और हिंसा के मामले में मजिस्ट्रेटी जांच कराने का आदेश दिया। जम्मू के संभागीय आयुक्त पवन कोतवाल जांच करेंगे।

सरकार ने सिख समुदाय की एक और मांग को स्वीकार करते हुए जम्मू के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का तबादला करने का, सतवारी के थाना प्रभारी कुलबीर सिंह को निलंबित करने का और मारे गये सिख युवक जगजीत सिंह के परिजनों को पांच लाख रुपए की अनुग्रह राशि तथा सरकारी नौकरी देने का आदेश दिया है।

एसएसपी के पीएसओ के खिलाफ हत्या के आरोपों के तहत एक मामला भी दर्ज किया गया है। जम्मू के उपायुक्त सिमरनदीप सिंह ने कहा, ‘‘गोलीबारी के मामले में एसएसपी के पीएसओ के खिलाफ आरपीसी की धारा 302 (हत्या) के तहत सतवारी थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है।’’

कल शहर के गडीगढ़ इलाके में हिंसक प्रदर्शनों के दौरान गोलीबारी में युवक मारा गया था। पुलिस के मुताबिक एसएसपी के पीएसओ ने सतवारी इलाके के गडीगढ़ में उग्र प्रदर्शनकारियों के हमले के दौरान आत्मरक्षा में गोली चलाई थी।

उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने कहा था, ‘‘पुलिस ने आत्मरक्षा में गोली चलाई जिसमें एक की मौत हो गयी। पूरे घटनाक्रम को देखा जाएगा और इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।’’

उन्होंने कहा कि जम्मू में शांतिपूर्ण माहौल है और कुछ लोग हैं जो इस तरह के हालात पैदा कर रहे हैं। सरकार ने जम्मू के डीआईजी के तौर पर अशकूर वानी को भेजा है। जम्मू के एसएसपी का प्रभार अतिरिक्त एसपी राजीव पांडेय को दे दिया है और मंजीत सिंह को सतवारी थाने का नया प्रभारी बनाया है।

सिख नेता तरलोचन सिंह वजीर ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रशासन के साथ कल रात चार घंटे तक चली लंबी बातचीत सफल रही और सिख समुदाय की सभी मांगों को मान लिया गया।’’

सरकार की ओर से बैठक में प्रदेश के गृह सचिव आर के गोयल, पुलिस महानिदेशक के राजेंद्र कुमार, जम्मू के संभागायुक्त पवन कोतवाल और अन्य वरिष्ठ प्रशासनिक तथा पुलिस अधिकारियों ने प्रतिनिधित्व किया।

एक पुलिस अधिकारी ने आज कहा, ‘‘आरएस पुरा तहसील के चोहाला गांव में आज अपराह्न शांतिपूर्ण तरीके से अंतिम संस्कार किया गया। कोई प्रदर्शन नहीं हुए।’’

जम्मू में आज लगातार तीसरे दिन सड़कें सुनसान रहीं और व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे। जम्मू, सांबा, कठुआ, राजौरी और पूंछ जिलों में शिक्षण संस्थान भी आज लगातार दूसरे दिन बंद रहे। जम्मू में दूसरे दिन भी मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहीं। संवेदनशील क्षेत्रों में सेना के अलावा पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों को बड़ी संख्या में तैनात किया गया है।

Next Stories
1 मोदी मसीहा हैं, उनके पास सभी समस्याओंं का हल है: उमा भारती
2 राम मंदिर पर भी ‘मन की बात’ करें मोदी: शिवसेना
3 मणिपुर सेना हमला: उग्रवादियों की तलाश में अभियान तेज
ये पढ़ा क्या?
X