ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान की तरफ से फिर हुआ सीज़फायर का उल्लंघन, 2 लोगों की मौत, 9 घायल

गुरुवार को भी पाकिस्तान की ओर से आरएसपुरा और अरनिया सेक्टर में फायरिंग की गई जिसमें भारतीय सेना का कांस्टेबल शहीद हो गया और एक स्थानीय लड़की की मौत हो गई थी। भारतीय सेना ने शहीद जवान का बदला पाक के तीन सैनिक ढेर कर के लिया।

आरएसपुरा में पाकिस्तानी गोलीबारी का जवाब देते बीएसएफ के जवान। फोटो सोर्स- ईएनएस

जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान की तरफ से 24 घंटे में दूसरी बार सीजफायर का उल्लघंन किया गया है। शुक्रवार सुबह से अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर आरएसपुरा, अरनिया, रामगढ़ सेक्टर में फायरिंग की जा रही है। सुबह करीब 6.40 पर शुरू हुई फायरिंग अभी जारी है और इसमें एक महिला समेत दो नागरिकों की मौत हो गई है। 9 लोग घायल भी हुए हैं। भारत की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई हो रही है। बीएसएफ के जवान मुस्तैदी के साथ पाक की गोली बारी का जवाब मोर्टार दाग कर दे रहे हैं।  आपको बता दें कि गुरुवार को भी पाकिस्तान की ओर से आरएसपुरा और अरनिया सेक्टर में फायरिंग की गई जिसमें भारतीय सेना का कांस्टेबल शहीद हो गया और एक स्थानीय लड़की की मौत हो गई थी। भारतीय सेना ने शहीद जवान का बदला पाक के तीन सैनिक ढेर कर के लिया। वहीं सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) के महानिदेशक के.के. शर्मा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा और अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर स्थिति बहुत ही तनावपूर्ण है।

शर्मा ने पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद बीएसएफ के जवान को पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद पत्रकारों से कहा कि नियंत्रण रेखा और अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर हालात तनावपूर्ण और युद्ध जैसे हैं और बीएसएफ दुश्मन को करारा जवाब दे रही है तथा जवानों का मनोबल काफी ऊंचा है। उन्होंने बताया कि हमारे जवानों की जवाबी गोलीबारी में पाकिस्तानी सैनिकों को काफी नुकसान पहुंचा है और उनकी दो मोर्टार चौकियां नष्ट हो गई हैं। उन्होंने कहा कि हम किसी भी तरह की स्थिति का सामना करने को तैयार है और दुश्मन के नापाक मंसूबों को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोर्ट में लड़ाई, पर डिनर पार्टी में अरुण जेटली से दिखी अरविंद केजरीवाल की बेहद करीबी
2 पद्मावत विरोध: एंकर पर बिफरे करणी सेना के नेता- गर्दन कट सकती है, फांसी चढ़ सकते हैं, माफी हमारी किताब में नहीं
3 शीला दीक्षित को पसंद था साइकिल चलाना, नहीं चाहती थीं राजनीति में आना