कश्मीर में टीचरों की हत्या: राहुल गांधी बोले- आतंकवाद ना नोटबंदी से रुका ना धारा 370 हटाने से, संजय सिंह ने पूछा- 56 इंच की छाती वाले खामोश क्यों?

आतंकियों ने श्रीनगर के ईदगाह में गुरुवार को 2 सरकारी स्कूल के शिक्षकों की गोली मारकर हत्या कर दी।

sanjay-rahul
AAP के संजय सिंह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर केंद्र सरकार पर सवाल उठाए हैं। (फाइल फोटो)

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर दहशत फैलाने की कोशिश की है। आतंकियों ने श्रीनगर के ईदगाह में गुरुवार को 2 सरकारी स्कूल के शिक्षकों की गोली मारकर हत्या कर दी। इससे पहले मंगलवार को आतंकियों ने एक कश्मीरी पंडित माखन लाल बिंदरू समेत 3 लोगों की हत्या कर दी थी।

आतंकियों के इस हमले के बाद AAP सांसद संजय सिंह ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि 56 इंच की छाती पीटने वाले खामोश क्यों हैं?

संजय सिंह ने मृतक शिक्षकों की फोटो भी ट्वीट की है और लिखा है कि कश्मीर के सरकारी स्कूल के 2 शिक्षक सुपिन्दर कौर और दीपक चंद की आतंकियों द्वारा हत्या हृदय विदारक है। 56 इंच की छाती पीटने वाले खामोश क्यों हैं?

इस मुद्दे पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी का बयान भी सामने आया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘कश्मीर में हिंसा की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। आतंकवाद ना तो नोटबंदी से रुका और ना धारा 370 हटाने से। केंद्र सरकार सुरक्षा देने में पूरी तरह असफल रही है। हमारे कश्मीरी भाई-बहनों पर हो रहे इन हमलों की हम कड़ी निंदा करते हैं व मृतकों के परिवारों को शोक संवेदनाएं भेजते हैं।’

बता दें कि आतंकियों ने गुरुवार सुबह करीब 11.15 बजे 2 स्कूल टीचरों को श्रीनगर के संगम ईदगाह में गोली मारी। पुलिस ने बताया कि इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और हमलावरों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। मृतकों की पहचान अलोची बाग क्षेत्र निवासी सुपिन्दर कौर और जम्मू निवासी दीपक चंद के रूप में हुई है। वे सरकारी बॉयज स्कूल, संगम में टीचर थे।

आतंकियों के हौसले घाटी में फिर से बुलंद हो गए हैं। हालही में आतंकियों ने एक कश्मीरी पंडित समेत 3 लोगों की हत्या कर दी थी। उसके बाद इन 2 टीचरों की हत्या कर आतंकी ये संदेश देना चाह रहे हैं कि वे घाटी में फिर से एक्टिव हो चुके हैं।

आतंकियों ने मंगलवार को दवा विक्रेता माखन लाल बिंदरू की हत्या कर दी थी। माखन कश्मीरी पंडित थे और उन्हें आतंकियों ने कई बार कश्मीर छोड़ने की धमकी दी थी, लेकिन बिंदरू ने ऐसा नहीं किया और इसी खुन्नस में आतंकियों ने उनकी दुकान के बाहर उन्हें गोली मार दी।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।