जम्मू-कश्मीर में 27 दिनों से चल रही आतंकियों की तलाश, नौ जवान शहीद, उमर अब्दुल्ला बोले- शादी के हॉल को भी बैरक बना दिया

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबल पिछले 27 दिनों से सर्च ऑपरेश चला रहे हैं। अब तक कामयाबी नहीं मिल पाई है। वहीं पिछले एक सप्ताह में 9 जवान शहीद हो गए।

जम्मू-कश्मीर में 27 दिनों से चल रहा सर्च ऑपरेशन।

तीन हफ्ते से चल रहे सर्च ऑपरेशन के बाद भी सुरक्षाबलों को आतंकियों को ढूंढ निकालने में कामयाबी नहीं मिल पाई है। जम्मू-कश्मीर के सुरनकोट और मेंढर इलाके के जंगलों में उनके छिपे होनें की आशंका है। अब सुरक्षाबलों ने अपना ध्यान राजौरी जिले की तरफ लगा दिया है। राजौरी से थानामंडी की तरफ का ट्रैफिक रोक दिया गया है और सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

पुंछ और राजौरी जिले पाकिस्तान की सीमा के साथ जुड़े हुए हैं। 10 अक्टूबर को स्थानीय लोगों ने यहां आतंकयों के छिपे होने की बात कही थी। 11 अक्टूबर को 11 जवान भी मार दिए गए थे। इसके बाद ऑपरेशन और तेज हो गया। पिछले 17 दिनों में 9 जवानों की जान जा चुकी है।

उमर अब्दुल्ला ने सुरक्षाबलों पर लगाए आरोप
नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि जब वह मुख्यमंत्री थे तब शादियों के लिए कई कम्युनिटी हॉल बनवाए थे। अब इन हॉल का प्रयोग सेना के बैरक के रूप में होने लगा है और जिन बंकरों को तोड़ दिया गया था, वे फिर से बनाए जा रहे हैं।

खबर आई थी कि श्रीनगर में कम्युनिटी हॉल पर सीआरपीएफ ने कब्जा कर लिया है। इसके बाद उमर अब्दुल्ला ने यह प्रतिक्रिया दी। हाल ही में हुए आतंकी हमलों के बाद श्रीनगर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पीडीएफ नेता महबूबा मुफ्ती ने भी सरकार को घेरते हुए कहा कि घाटी के लोगों को दम घुट रहा है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘हर नुक्कड़ पर बंकर बनवाने के बाद सुरक्षाबलों को शादी के हॉल में भेज दिया गया जो कि यहां के लोगों की सहूलियत के लिए बनवाए गए थे। लोगों का दम घोटने के लिए हर रोज नए कठोर कानून बनाए जा रहे हैं।’

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट