ताज़ा खबर
 

Republic Bharat पर उमर अब्दुल्ला के पिता पर BJP नेता ने साधा निशाना तो बीच में बोलने लगे पैनलिस्ट, एंकर बोले- बीच में मत बोलो

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया है

JAMMU KASHMIR, JAWANजम्मू-कश्मीर में शहीद जवानों को सलामी दी गई। फोटो सोर्स- ANI

जम्मू कश्मीर में 3 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद शुक्रवार को Republic TV पर बहस के दौरान भारतीय जनता पार्टी की नेता ने नेशनल कॉन्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूख अब्दुल्लाह पर निशाना साधा। भाजपा नेता प्रवक्ता नुपूर शर्मा ने कहा कि सच जो है कि ये ट्वीट करके के गुपकर गैंग चुप क्यों हो गए। आज कहां दुबक कर बैठे हुए यह लोग। मैं उमर अब्दुल्ला का ट्वीट पढ़ रही थी, जिसमें उन्होंने कहा है कि पीछे से वार किया है यह बहुत ही शर्मनाक बात है। अरे आप अपने पिता जी के बयान को देख लीजिए…

साल 2017 में 2 बार कहते हैं कि ये तो फ्रीडम फाइटर हैं। जब तक कश्मीर का हल नहीं होगा इनके हाथ में किताब की जगह पत्थर ही रहेगा। भाजपा नेता की बात सुनने के बाद शो में मौजूद एक पैनलिस्ट उन्हें टोकने लगे। इसपर एंकर गौरव आर्या ने उनका नाम लेते हुए कहा कि- बीच में मत बोले। हालांकि इसके बाद भी पैनलिस्ट ने एक बार फिर बीच में टोका।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया है। बाराजुल्ला इलाके में आतंकियों ने शुक्रवार दोपहर पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी। इस फायरिंग में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए, जिनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। शहीद दोनों जवान, जम्मू-कश्मीर पुलिस के हैं।

इलाके को घेर लिया गया और सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। पुलिस पार्टी पर आतंकी हमले का एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसमें एक आतंकी एके-47 लेकर घात लगाते हुए दिख रहा है।

खास बात है कि आतंकी मार्केट के बीच में नजर आ रहा है और उसके हाथ में एके-47 दिखाई दे रही है. आतंकी की पहचान की जा रही है। साथ ही आस-पास के इलाके में सर्च ऑपरेशन चल रहा है।

Next Stories
1 जख्म जो खुला तो गद्दार ही निकला’, गौरव भाटिया ने विपक्ष पर कसा तंज तो प्रवक्ता ने कहा- जो पूछा उसका जवाब दे दो…
2 गुजरात निकाय चुनाव: पुलिस की मौजूदगी में बीच सड़क कांग्रेस-बीजेपी कार्यकर्ता भिड़े, खूब चले डंडे
3 यहां AC लगाएंगे, UP सरकार से कनेक्शन नहीं मिला तो जनरेटर लगाएंगे’, बोले राकेश टिकैत- घर नहीं जाएंगे
ये पढ़ा क्या?
X