ताज़ा खबर
 

कश्‍मीर: वाजपेयी को श्रद्धांजलि के बाद बोलीं बीजेपी नेता- पार्टी में महिलाओं को प्रताड़ित करते हैं पुरुष

प्रिया जराल ने आरोप लगाते हुए कहा कि "पार्टी में महिलाओं के लिए कोई सम्मान नहीं है। ये (पुरुष नेता) नहीं जानते कि महिलाओं के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है।"

Author September 1, 2018 12:27 PM
जम्मू कश्मीर भाजपा में महिला कार्यकर्ता ने लगाए पार्टी नेताओं पर शोषण के गंभीर आरोप। (file pic)

जम्मू कश्मीर में भाजपा की एक महिला कार्यकर्ता ने पार्टी के स्थानीय नेताओं पर शोषण के गंभीर आरोप लगाए हैं। यह घटना गुरुवार शाम की है, जब जम्मू के एक कन्वेंशन सेंटर में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित करने का कार्यक्रम चल रहा था। तभी भाजपा नेता प्रिया जराल ने कार्यक्रम में बोलते हुए पार्टी नेताओं द्वारा शोषण करने का मुद्दा उठाया। प्रिया जराल ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रविंद्र रैना को संबोधित करते हुए ‘मातृ शक्ति’ की रक्षा करने की मांग की। हालांकि इस दौरान राज्य सभा स्पीकर निर्मल सिंह, जो कि वहां मौजूद थे, उन्होंने प्रिया जराल को मनाने की कोशिश की और इस तरह सार्वजनिक तौर पर आरोप लगाने से रोका भी, लेकिन इसके बावजूद प्रिया जराल ने रविंद्र रैना के सामने अपनी बात रखी।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष से मुखातिब होते हुए प्रिया जराल ने कहा कि वह कहते हैं कि वह मातृ शक्ति और झांसी की रानी हैं। हालांकि इस दौरान रविंद्र रैना भी शर्मिंदा दिखे और प्रिया जराल को मनाने की कोशिश करते रहे। लेकिन प्रिया जराल नहीं रुकीं और कहा कि “नहीं सर, मैं थक गई हूं बोल-बोल के।”इस पर रविंद्र रैना कुछ अन्य पार्टी नेताओं के साथ जाने लगे तो प्रिया जराल ने उनका पीछा कर कहा कि “वाजपेयी महिलाओं के शोषण के खिलाफ बोला करते थे।” प्रिया जराल ने आरोप लगाते हुए कहा कि “पार्टी में महिलाओं के लिए कोई सम्मान नहीं है। ये (पुरुष नेता) नहीं जानते कि महिलाओं के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है।”

प्रिया जराल यहीं नहीं रुकी और कहा कि “मैं उस तरह की महिला नहीं हूं। (जो चुप रह जाए) मैं अपनी आवाज उठाऊंगी। जराल ने आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने उन्हें बताया है कि उनका प्रमोशन तभी हो सकता है, जब उनकी सीनियर लेवल पर कुछ सेटिंग होगी।” वहीं इस पूरे मसले पर पार्टी के स्थानीय स्तर पर शीर्ष नेतृत्व से बात नहीं हो सकी है। रविंद्र रैना से भी मोबाइल पर बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने फोन का कोई जवाब नहीं दिया। वहीं दूसरी तरफ महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को इस मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन किया और इस मामले की शीर्ष स्तर पर जांच कराने की मांग की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App