ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीरः अनंतनाग में आतंकी हमला, 2 CRPF जवान शहीद; लश्कर-ए-तैयबा ने ली जिम्मेदारी

फिलहाल भारतीय सुरक्षाबल भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने में जुटा है। आतंकी किसी भी हालत में भागने न पाएं, इसके लिए सुरक्षाबलों ने चारों ओर से इलाके की घेराबंदी कर ली है।

फिलहाल भारतीय सुरक्षाबल भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने में जुटा है। आतंकी किसी भी हालत में भागने न पाएं, इसके लिए सुरक्षाबलों ने चारों ओर से इलाके की घेराबंदी कर ली है।

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में शुक्रवार (13 जुलाई) को आतंकियों ने हमला कर दिया। आतंकियों ने अचबल चौक के पास शीर पोरा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के जवानों के काफिले पर हमला किया था। न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, सीआरपीएफ के दो जवान इस दौरान जख्मी हुए। हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने ली है। हाफिज सईद उसका सरगना है।

टीवी मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि दोनों जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। वहीं, तीन जवानों के जख्मी होने की खबर आई है। फिलहाल भारतीय सुरक्षाबल भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने में जुटा है। आतंकी किसी भी हालत में भागने न पाएं, इसके लिए सुरक्षाबलों ने चारों ओर से इलाके की घेराबंदी कर ली है।

शहीद हुए जवानों में से एक की पहचान सीआरपीएफ के असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर मीणा के रूप में हुई है, जबकि दूसरे वाले सीआरपीएफ में कांस्टेबल के पद पर तैनात थे।

शीरपोरा में हुए इस हमले के अलावा दक्षिणी कश्मीर में भी आतंकी हमला हुआ। आतंकियों ने यहां एक पुलिस स्टेशन को अपना निशाना बनाया। रिपोर्ट्स के अनुसार, यह हमला यारीपोरा पुलिस थाने पर किया गया। हालांकि, अच्छी बात यह है कि वहां से किसी प्रकार के नुकसान की खबर नहीं है।

कश्मीर के शोपियां में मंगलवार को भी आतंकियों की नापाक हरकत देखने को मिली थी। आतंकियों की ओर से गोलीबारी के बाद भारतीय सुरक्षाबलों के साथ उनकी मुठभेड़ हुई थी, जिसमें दो आतंकी ढेर कर दिए गए थे। सुरक्षाबलों ने मौके से उनके शव भी बरामद कर लिए थे।

हालांकि, उस दौरान एक जवान भी जख्मी हो गया था। गुप्त सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाया था। बताया गया था कि यहां के कंदलान इलाके में एक घर के भीतर पांच से छह आतंकी छिपे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App